यूपी कैबिनेट में विस्तार की अटकलें तेज, आज राज्यपाल से मिलेंगे BJP प्रभारी राधा मोहन सिंह

यूपी कैबिनेट में विस्तार की अटकलें तेज, आज राज्यपाल से मिलेंगे BJP प्रभारी राधा मोहन सिंह
  • बीजेपी के उत्तर प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह आज राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात करेंगे. बैठक रविवार सुबह 11 बजे होगी.

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनावों में अभी छह महीने से अधिक का समय है. योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में राज्य में कोरोना महामारी पर काबू पाए जाने के लिए भारतीय जनता पार्टी ने चुनावी तैयारियां शुरू कर दी हैं. 2022 के विधानसभा चुनावों की उलटी गिनती शुरू होते ही सत्तारूढ़ बीजेपी ने अपना रोडमैप बना लिया है. अगले साल विधानसभा चुनाव से पहले राज्य में मंत्रिमंडल के विस्तार की अटकलें भी हैं. इस बीच बीजेपी के उत्तर प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह आज राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात करेंगे. बैठक रविवार सुबह 11 बजे होगी.

2022 के विधानसभा चुनावों से पहले, ऐसी अटकलें हैं कि राज्य में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार जल्द ही अपने मंत्रिमंडल में फेरबदल करेगी. अगले साल होने वाले चुनावों के साथ, बीजेपी ने पंचायत चुनावों के परिणाम और कोरोना स्थिति से निपटने के लिए कुछ वर्गों से अफवाहों के मद्देनजर अपने नेताओं से प्रतिक्रिया मांगकर राज्य में पार्टी को मजबूत करने का फैसला किया है. पार्टी ने योगी आदित्यनाथ सरकार में राज्य के नेताओं और मंत्रियों से प्राप्त फीडबैक के आधार पर एक रणनीति तैयार करने, राज्य सरकार की छवि को मजबूत करने और राज्य में मुद्दों को हल करने का भी निर्णय लिया है.

बीते दिनों उत्तर प्रदेश में चुनाव के मद्देनजर बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष ने सरकार और संगठन के पदाधिकरियों से मुलाकात की थी. इस दौरान उन्होंने प्रदेश सरकार के दोनों उपमुख्यमंत्रियों और तकरीबन डेढ़ दर्जन मंत्रियों से अलग-अलग मिलकर फीडबैक लिया था. तीन दिनों में कई घंटों की मुलाकात ने यूपी में नेतृत्व बदलाव की अटकलों को निर्मूल साबित कर दिया. तीन दिनों तक महामंथन चला और बाद में बीएल संतोष दिल्ली लौट गए. उनके जाने के बाद सियासी गलियारों में चर्चा शुरू हो गई कि थोड़ा बहुत ही सही विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए बीजेपी नेतृत्व यूपी की सर्जरी कर सकता है.

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में विधानसभा के चुनाव अगले साल यानी 2022 में होने वाले हैं. भारतीय जनता पार्टी ने 2017 के विधानसभा चुनावों में राज्य में सत्ता में वापसी की थी. 403 सदस्यीय उत्तर प्रदेश विधानसभा में प्रमुख दलों में भारतीय जनता पार्टी के 309 विधायक हैं, जबकि समाजवादी पार्टी 49 विधायकों के साथ राज्य की दूसरी बड़ी पार्टी बनी. इसके अलावा बहुजन समाज पार्टी को 18 सीटें और कांग्रेस को 7 सीटें मिली थीं.


पत्रकार अप्लाई करे Apply