कोरोना वायरस: 7 और मौतों से कुल संख्या हुई 20, भारत में संक्रमण के मरीज 700 पार

 

नई दिल्ली
कोरोना वायरस से गुरुवार को देशभर में कुल 7 लोगों के मौते हुईं, जो किसी एक दिन में होने वाली सबसे अधिक मौते थीं। इस तरह से अब तक इस संक्रमण से देश में मरने वालों की संख्या 20 पहुंच गई है। रिपोर्ट्स के अनुसार, 71 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जिनमें दिल्ली में चार शामिल हैं। राज्यों की रिपोर्टों के अनुसार, इस प्रकार भारत में कोरोनो वायरस के कुल मामलों की संख्या 700 के पार हो गई, जो 727 है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड-19 से हुईं 6 नई मौतों की पुष्टि की है। मंत्रालय द्वारा पुष्टि की गई मौतों की कुल संख्या 16 है, जबकि 88 नए मामलों की सूचना दी गई है। उसके अनुसार, संक्रमित लोगों की संख्या 694 है। इसमें मुंबई की दो मौतें (दोनों 65 वर्षीय महिलाएं हैं) को जोड़ा नहीं गया है। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर में सोपोर के एक 65 वर्षीय व्यापारी और राजस्थान के भीलवाड़ा निवासी 73 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत की भी खबर है। बता दें कि इस संक्रमण से अब तक मौतों में बुजुर्गों की संख्य अधिक है। राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने इस बारे में कहा, ‘मरीज मधुमेह, किडनी रोग और स्ट्रोक से पीड़ित था।

तेजस्वी सूर्य

29 वर्षीय युवा सांसद तेजस्वी सूर्या को सांसद मीनाक्षी लेखी ने टैग करते एक व्यक्ति के फंसने की जानकारी दी तो कुछ ही घंटों में तेजस्वी ने अक्षय पुजारी नाके शख्स तक सहायता पहुंचा दी।
  • एक मेसेज और दौड़ पड़े

    बीजेपी नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने पार्टी कार्यकर्ता मनीष पांडे को न्यूज एजेंसी एएनआई के एक ट्वीट पर टैग करते हुए दिल्ली में एक फैमिली को सहायता पहुचाने को को कहा। इस मनीष पांडे ने न केवल सबंधित फैमिली तक राशन पहुंचाया, बल्कि रैन बसेरे में रहने की व्यवस्था भी कराई।
  • कांग्रेस भी पीछे नहीं

    जिस फैमिली को बीजेपी नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने मदद पहुचाने की गुहार लगाई थी वहां यूथ कांग्रेस कार्यकर्ता भी मदद के लिए पहुंचे थे। उन्होंने फैमिली को राशन दिया और बताया कि इस जोड़े, 8 महीने की प्रेग्नेंट सपना और संजय, को मदद पहुंचा दी गई है।
  • सांसद ने खोला सरकारी बंगला

    आगरा से बीजेपी सांसद एसपीएस बघेल ने लॉकडाउन की वजह से दिल्ली में फंसे आगरा के लोगों के लिए अपना सरकारी बंगला खोला। कहा जो भी चाहे, वहाँ जाकर रह सकते हैं।
  •  

    यूपी सरकार ने नई दिल्ली स्थित यूपी निवास पर एक कंट्रोल रूम बनाया। लॉकडाउन की वजह से दिल्ली में फंसे यूपी के लोग यहाँ से मदद ले सकते हैं

एमपी में दूसरी मौत
मध्य प्रदेश ने भी अपनी दूसरी मौत की सूचना दी है। एक 35 वर्षीय व्यक्ति (जिसकी विदेश यात्रा का कोई इतिहास नहीं था) की, जिसे बुखार, खांसी और सांस लेने में दिक्कत की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहां अस्पताल में कोविड-19 का पॉजिटिव पाया गया था और उसकी इंदौर में इलाज के दौरान मौत हो गई। इससे पहले राज्य की एक 65 वर्षीय महिला ने बीमारी से दम तोड़ा था।

केरल में सबसे अधिक 137 मामले
गुजरात में गुरुवार को एक 70 वर्षीय व्यक्ति की मौत और पांच नए सकारात्मक मामले दर्ज किए गए। राज्य में पॉजिटिव लोगों की संख्या 44 तक पहुंच गई है, जबकि 3 की मौत हुई है। भावनगर का रहने वाला ताजा पीड़ित हाल ही में दिल्ली आया था। स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि वह कैंसर, मधुमेह और हृदय रोग से पीड़ित था। केरल में अब तक कोई कोविड -19 से कोई मौत नहीं हुई है। हालांकि राज्य में गुरुवार को सबसे अधिक 19 मामले दर्ज किए हैं। यहां अब तक 137 रोगी हैं, जो देश के किसी भी राज्य में सबसे अधिक हैं।

कोरोना अपडेट: सरकार के राहत पैकेज से राहुल भी खुश

कोरोना अपडेट: सरकार के राहत पैकेज से राहुल भी खुशकोरोना वायरस से जुड़ीं दिनभर की सभी अहम खबरें देखिए एक साथ कोरोना अपडेट में

महाराष्ट्र में कुल 8 नए मामले, जबकि दिल्ली में 4
अन्य की बात करें तो महाराष्ट्र में 8 नए मामले दर्ज किए। यहां कुल 130 मामले हैं, जबकि कर्नाटक में 55, तेलंगाना में 45 और गुजरात में 44 हैं। दिल्ली में 4 नए मामले सामने आने से उसकी संख्या 39 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि कोरोना संक्रमण की संख्या बढ़ रही है। जिस दर से वे बढ़ रहे हैं वह अपेक्षाकृत स्थिर हो रहा है। हालांकि यह केवल प्रारंभिक ट्रेंड है। इसपर कुछ ज्यादा नहीं कहा जा सकता है।

कोरोना: ममता ने गोले बनाकर सिखाई सोशल डिस्टेंसिग

कोरोना: ममता ने गोले बनाकर सिखाई सोशल डिस्टेंसिगकोरोना के कारण जारी लॉकडाउन के बीच पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी गुरुवार को खुद जागरूकता फैलाती दिखीं। कोलकाता के एक सब्जी बाजार में ममता बनर्जी जमीन पर गोला बनाकर लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग समझा रही थीं। देखिए-

लॉकडाउन को फॉलों करें, वर्ना कोशिश हो जाएगी बेकार
अग्रवाल ने कहा कि कोरोनो वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लगा हुआ है। पॉजिटिव पाए जाने वालों के संपर्क का पता लगाने और उससे संबंधित सभी लोगों की निगरानी की जा रही है। साथ ही लव ने प्रधानमंत्री द्वारा घोषित लॉकडाउन का समर्थन करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा- लॉकडाउन की वजह से किसी पॉजिटिव शख्स के संपर्क में नहीं आने से श्रृंखला टूटेगी। अगर इसे फॉलो नहीं किया जाएगा तो सारी कोशिश बेकार हो जाएगी।

 
 

Related posts

Top