जुमे की नमाज़ पूरे देश में स्थगित करने की अपील, लखनऊ की आसिफी मस्जिद में दो हफ्ते के लिए रोक

 

कोरोना वायरस से संक्रमण के खतरे को देखते हुए मौलाना कलबे जव्वाद नकवी ने एलान किया है कि सार्वजनिक स्वास्थ्य को देखते हुए 20 और 27 मार्च को लखनऊ की आसिफी मस्जिद में जुमे की नमाज नहीं होगी। उनके बयान को मजलिस ए ओलमा ए हिंद ने जारी किया है।

कलबे जवाद नकवी ने भारत के अलग-अलग शहरों में मौजूद अन्य इमामों से भी जुमे की नमाज दो सप्ताह के लिए स्थगित करने की अपील की है।

उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया की तरह हमारा देश भारत भी इस वायरस की ज़द में है। डॉक्टरों ने भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से मना किया है और इस वायरस  से बचने के लिए निर्देश जारी किए हैं जिन पर अमल करना हमारा फर्ज है।

मौलाना ने कहा है कि हमारे मराजाए किराम ने भी इस संबंध में सावधानी बरतने के लिए कहा गया है और डॉक्टरों के निर्देश पर अमल करने की हिदायत दी है। इसलिए हम पूरे देश में मौजूद इमामों से दो सप्ताह की नमाज स्थगित करने की अपील करते हैं। उन्होंने मुसलमानों से इस वायरस की समाप्ति के लिए दुआएं मांगी है।

 
 

Related posts

Top