मेट्रो को पटरी पर लाने की तैयारी, युद्धस्तर पर चल रहा काम

 

 

  • दिल्ली की लाइफ लाइन को दोबारा पटरी पर लाने की तैयारी
  • DMRC कर रहा व्यापक स्तर पर तैयारियां
  • अभी फिलहाल स्टेशनों, रेल के कोचों की साफ सफाई की जा रही
  • अभी कोई तारीख निश्चय नहीं हुई लेकिन तैयारियां युद्धस्तर पर जारी

नई दिल्ली
दिल्ली मेट्रो ( Delhi Metro) के दोबारा परिचालन के लिए पहले से ही सारी व्यवस्थाएं की जा रही हैं। इसके लिए मेट्रो और स्टेशनों पर सोशल डिस्टेंसिंग के लिए प्रोटोकॉल तैयार किया जा रहा है। मेट्रो ट्रेन के अंदर सीटों पर स्टीकर लगाए जा रहे हैं। ताकि लोग उन सीटों पर न बैठें। हालांकि अभी यह तय नहीं हो पाया है कि मेट्रो का परिचालन कब से होगा और इसके लिए क्या शर्तें होंगी। दिल्ली मेट्रो के एक्सक्यूटिव डायरेक्टर अनुज दयाल ने कहा कि वर्तमान महामारी को देखते हुए डीएमआरसी सफाई और मेंटिनेंस पर काम कर रहा है।

सफाई और मेंटिनेंस का काम
उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के संकट को देखते हुए हम लोग दिल्ली मेट्रो के सभी स्टेशनों को साफ-सुथरा करने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 264 स्टेशनों, 2200 कोच, 1100 एस्कलेटर (स्वचलित सीढ़ियां) और 1000 लिफ्ट शामिल हैं। इन सभी को विधिवत साफ करने का काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा मेट्रो ट्रेन और स्टेशनों पर सोशल डिस्टेंसिंग के लिए प्रोटोकॉल क्या रहेगा इस पर काम किया जा रहा है।

अभी तारीख का ऐलान नहीं
दयाल ने बताय कि अभी दिल्ली मेट्रो कब चलेगी इसकी तारीख का कोई ऐलान नहीं किया है। जनता को उचित समय पर सूचित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मेट्रो की सभी प्रणालियों में सिग्नलिंग, इलेक्ट्रिकल, रोलिंग स्टॉक, ट्रैक आदि को सेवाओं से पहले विस्तार से जांचना होगा। अंततः हमारे यात्रियों के लिए पूर्ण सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए शुरू किया गया है।

इससे पहले भी आई थी जानकारी
इससे पहले भी दिल्ली मेट्रो का एक ट्वीट आया था। ट्वीट में कहा था कि मेट्रो स्टेशनों में विशेष रूप से प्रशिक्षित हाउसकीपिंग स्टाफ रखे गए हैं जो पैसेंजर मूवमेंट एरिया को साफ करेंगे। डीएमआरसी के मुताबिक मेट्रो की सेवाएं शुरू होने पर सुरक्षित मूवमेंट के लिए मेट्रो परिसर में मौजूद मशीनों जैसे एएफसी गेट, लिफ्ट, एस्क्लेटर्स इत्यादि की सफाई के लिए भी विशेष स्टाफ नियुक्त किए गए हैं।

22 मार्च से बंद हैं सेवाएं
गौरतलब है कि दिल्ली में 22 मार्च से ही मेट्रो सेवाएं बंद हैं। 22 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता कर्फ्यू की घोषणा की थी। इसके साथ ही मेट्रो सेवाओं का परिचालन बंद कर दिया था। अब एकबार फिर से उम्मीद जताई जा रही है दिल्ली की लाइफलाइन कही जाने वाली मेट्रो का संचालन फिर से शुरू कर दिया जाएगा।

हालांकि अभी इस बारे में कोई गाइडलाइंस जारी नहीं की गई है। क्योंकि जब रेलवे से ट्रेनों का संचालन किया गया तो सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में तमाम गाइडलाइंस दी गई। लेकिन अभी तक ये नहीं बताया गया कि मेट्रो का संचालन कैसे किया जाएगा। क्योंकि दिल्ली मेट्रो में हर रोज लाखों लोग सफर करते हैं और भयंकर भीड़ होती है। ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कैसे होगा।

 
 

Related posts

Top