अहमदाबाद व सूरत के मेट्रो प्रोजेक्ट का शुभारंभ, प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- 27 शहरों में 1000 किमी से अधिक नए मेट्रो नेटवर्क पर हो रहा काम

अहमदाबाद व सूरत के मेट्रो प्रोजेक्ट का शुभारंभ, प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- 27 शहरों में 1000 किमी से अधिक नए मेट्रो नेटवर्क पर हो रहा काम

नई दिल्ली । गुजरात के अहम शहरों सूरत व अहमदाबाद के लिए आज का दिन महत्वपूर्ण है।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने सोमवार, 18 जनवरी 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अहमदाबाद मेट्रो रेल परियोजना (Ahmedabad Metro) के द्वितीय चरण एवं सूरत मेट्रो रेल परियोजना का भूमि पूजन  किया। इन मेट्रो परियोजनाओं से इन शहरों को पर्यावरण के अनुकूल ‘Mass Rapid Transit System’ की सुविधा मिलेगी। इस मौके पर गुजरात के राज्यपाल (Gujarat Governor), केंद्रीय गृहमंत्री (Union Home Minister), राज्य मुख्यमंत्री (Gujarat Chief Minister) और केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री (Union Housing & Urban Affairs Minister) उपस्थित हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘2014 से पहले के 10-12 सालों में सिर्फ 225 किमी मेट्रो लाइन ऑपरेशनल हुई थी। बीते 6 वर्षों में 450 किमी से ज्यादा मेट्रो नेटवर्क चालू हो चुका है। इस समय देश के 27 शहरों में 1000 किमी से ज्यादा के नए मेट्रो नेटवर्क पर काम चल रहा है।’

उत्तरायण की शुरुआत में दोनों शहरों को अहम उपहार : प्रधानमंत्री

रिमोट से दोनों शहरों की परियोजनाओं का शुभारंभ करने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘उत्तरायण की शुरुआत में आज अहमदाबाद और सूरत को बहुत ही अहम उपहार मिल रहा है। कल ही केवडिया के नए रेल मार्ग और नई ट्रेनों की शुरुआत हुई है। अहमदाबाद से भी आधुनिक जन शताब्दी एक्सप्रेस अब केवडिया तक जाएगी। आज अहमदाबाद में 17 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के इंफ्रास्ट्रक्चर का काम शुरू हो रहा है। यह  दिखाता है कि कोरोना के इस काल में भी नए इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण को लेकर देश के प्रयास लगातार बढ़ रहे हैं। 2014 से पहले के 10-12 वर्ष में सिर्फ 225 किमी मेट्रो लाइन ऑपरेशनल हुई थी। वहीं बीते 6 वर्षों में 450 किमी से ज्यादा मेट्रो नेटवर्क चालू हो चुका है। अहमदाबाद के बाद सूरत गुजरात का दूसरा बड़ा शहर है जो मेट्रो जैसे आधुनिक पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम से जुड़ेगा। सूरत में मेट्रो नेटवर्क एक प्रकार से पूरे शहर के महत्वपूर्ण व्यापारी केंद्र को आपस में कनेक्ट करेगा।

अहमदाबाद व सूरत में मेट्रो से आएगी मजबूती

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश के दो व्यापारिक केंद्रों अहमदाबाद व सूरत में मेट्रो और मजबूती प्रदान करेगा। उन्होंने एक दिन पहले ट्रेनों की शुरुआत का भी जिक्र किया। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘देश के 2 बड़े व्यापारिक केंद्रों अहमदाबाद और सूरत में मेट्रो कनेक्टिविटी को और मजबूत करने का काम करेगी। आज 17,000 करोड़ से अधिक इंफ्रास्ट्रक्चर का काम शुरू हो रहा है, यह दिखाता है कि कोरोना काल में भी नए इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण को लेकर देश के प्रयास लगातार बढ़ रहे हैं।’

वहीं केंद्रीय आवास और शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा, ‘अहमदाबाद मेट्रो फेज-1 का कार्य जोर-शोर से चल रहा है, जून 2022 में जब देश स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ मना रहा होगा ये काम पूरा हो जाएगा।’

अहमदाबाद मेट्रो रेल प्रोजेक्ट फेज-II

28.25 किमी लंबाई वाले अहमदाबाद मेट्रो रेल प्रोजेक्ट फेज II में दो कॉरिडोर हैं। कॉरिडोर-1 22.8 किमी लंबा है जो मोटेरा स्टेडियम (Motera Stadium) से महात्मा मंदिर (Mahatma Mandir) तक है। कॉरिडोर-2 5.4 किमी लंबा है ओर यह  GNLU से गिफ्ट सिटी तक है। फेज- II परियोजना को पूरा होने में 5,384 करोड़ रुपये का खर्च आएगा।

सूरत मेट्रो रेल प्रोजेक्ट 

Surat Metro Rail Project is सूरत का यह प्रोजेक्ट  40.35 किमी लंबा है और इसमें भी दो कॉरिडोर हैं। कॉरिडोर-1 21.61 किमी लंबा है और यह सरथाना (Sarthana) से ड्रीम सिटी (Dream City) तक है। कॉरिडोर-2 18.74 किमी लंबा है और यह भेसन (Bhesan) से सारोली (Saroli) तक है। इस प्रोजेक्ट को पूरा करने में कुल 12,020 हजार करोड़ रुपये का खर्च आएगा।


पत्रकार अप्लाई करे Apply