लाकडाउन को गंभीरत से न लेने वालो पर होगी सख्ती, प्रशासन ने कसी कमर

 
nakur bajar

नकुड [इंद्रेश]। कोरोना के चलते लाकडाउन को गंभीरता से न लेने वालो के साथ प्रशासन सख्ती से पेश आ रहा है। बिना किसी उददेश्य के सडको पर घुमने वालों को पुलिस ने थाने मे बिठा लिया। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति पर भी प्रशासन की सख्त नजर है।

करोना के चलते लाकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिये प्रशासन ने कमर कस ली है। बिना उददेश्य के सडको पर घुमने वाले दो दर्जन से अधिक व्यक्यितों को पुलिस ने थाने में बिठाया। हांलाकि लाकडाउन के चलते नगर की दवा की दुकानों को छोडकर सभी दुकाने बंद रही। पंरतु कुछ लोग सडको पर घुमने से बाज नंही आये। एसडीएम पीएस राणा ने बताया कि बिना किसी उददेश्य के सडको पर घुमने वालों के खिलाफ प्रशासन सख्त कार्रवाई करेगा। सोमवार को भी ऐसे दो दर्जन लोगो को थाने पर बिठाया गया। बस अडडे पर सडक पर चल रहे वाहनो को रोककर पुछताछ की गयी। बिना किसी उददेश्य के सडको पर चल रहे वाहनो को वापस भेजा गया।

लाकडाउन में आवश्यक वस्तुओं की कालाबाजारी व जमाखोरी करने वालो के खिलाफ होगी कार्रवाई
एसडीएम ने बताया कि लाकडाउन के दौरान आम आदमी को गैस, सब्जी, पेट्रोल व राशन की आपूर्ति सुनिश्चित कराने के प्रयास किये जा रहे है। सुबह सात बजे से नौ बजे तक किराने व सब्जी की दुकाने खोली जायेगी। इस दौरान आम जनमानस अपनी जरूरत की वस्तुए ले सकेगे। इसके बाद क्षेत्र मे कोई दुकान नंही खुलेगी।

आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिये तहसील मुख्यालय पर आयोजित बैठक में उपजिलाधिकारी ने नकुड व गंगोह के हाट निरिक्षकों को किराना की दुकानों पर नजर रखने के निर्देश दिये। साथ ही राशन की आपूर्ति मे गडबडी न हो इसके लिये भी कडे निर्देश दिये गये है। पेट्रोल व गैस की आपूर्ति के लिये सप्लाई निरिक्षक को निर्देश दिये गये है। आवश्यक वस्तुओ की आपूर्ति पर निगरानी रखने के लिये आपूर्ति निरिक्षक, हाट निरिक्षको के अलावा कानुनगो को लगाया गया है।

उपजिलाधिकारी पीएस राणा ने बताया कि जमाखोरी व कालाबाजारी रोकने के लिये भी कडे कदम उठाये गये है। कालाबाजारी या जमाखोरी करने वालो के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। इसके लिये व्यापारियो से सहयोग मांगा गया है।

नकुड तहसील क्षेत्र में बनाये गये तीन कारेंटाईन सेंटर
कारोना के संदिग्धों को कारेंटाईन करने के लिये नकुड में सतगुरू इंस्टिटयूट आफ टेक्नोलोजी में बीच कमरो की व्यवस्था की गयी है। जबकि अंबेहेटा के सीएचसी में तीन वार्डो में बीस मरीजो के लिये व्यवस्था की गयी है । जबकि गंगोह में शोभित युनिवर्सिटी के मेडिकल कालेज मे कारेंटाईन सेंटर बनाया गया है।

रणदेवा में केरल से आये करोना के एक संदिग्ध को घर पर ही आईसोलेशन मे रखा गया है। जबकि अघ्याना में कथित रूप से श्रीलंका से आये एक संदिग्ध युवक को कारेंटाईन मे रहने के लिये कहा गया है। गंगोह क्षेत्र मे भी बाहर से आये चार व्यक्यिों को आइसोलशन मे रहने के लिये कहा गया है।

 

 
 
Top