जनपद में लॉक डाउन के दौरान पुलिस ने दिखाई सख्ती, वाहन किए सीज

 
सहारनपुर में लॉक डाउन के दौरान लोगों से पूछताछ करती पुलिस।

सहारनपुर। देश व प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा 16 जिलों में लागू किए गए लॉक डाउन के चलते आज पूरे जनपद में लोग अपने घरों में ही दुबकने को मजबूर रहे। दोपहर से पूर्व नागरिकों ने लॉक डाउन को हलकेपन में लेते हुए सडक़ों पर आवाजाही शुरू की तो पुलिस के सख्त तेवर अख्तियार करने के चलते लोगों को लॉक डाउन का पालन करने को मजबूर होना पड़ा।

 

सहारनपुर में लॉक डाउन के दौरान रेलवे स्टेशन पर परेशान यात्री।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर 22 मार्च को पूरे देश में लागू किए गए जनता कफ्र्यू की सफलता के बाद राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के 16 संवेदनशील जिलों में 25 मार्च तक लॉक डाउन करने की घोषणा की थी जिसमें सहारनपुर भी शामिल है। लॉक डाउन के पहले दिन आज जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने सब्जी, दूध की दुकानों, किराना की दुकानों, हॉकरों को जहां सुबह साढ़े छह बजे से प्रात: साढ़े नौ बजे तक की छूट प्रदान की गई थी, वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य विभाग व मीडिया को लॉक डाउन से अलग रखा गया था। लॉक डाउन के दौरान आज अनेक लोग बाइक लेकर सडक़ों पर निकल पड़े। पुलिस द्वारा पूछताछ करने पर प्रत्येक व्यक्ति द्वारा मेडिकल स्टोर व अस्पताल जाने का बहाना बनाया गया जिस कारण दोपहर के समय पुलिस ने सख्त तेवर अख्तियार कर लिए तथा पूछताछ के दौरान जरा सा भी शक होने पर पुलिसकर्मियों द्वारा वाहनों को सीज करने की कार्रवाई शुरू की गई जो देखते ही देखते जंगल में आग की तरह फैल गई। इसके बाद अधिकांश लोग अपने घरों में दुबके रहे।

सहारनपुर में लॉक डाउन के दौरान गंतव्य को पैदल जाता दम्पत्ति।

सहारनपुर में लॉक डाउन के दौरान गंतव्य को पैदल जाता दम्पत्ति।

लॉक डाउन के दौरान मंडलायुक्त संजय कुमार ने महानगर का भ्रमण कर स्थिति का जायजा लिया तथा चौराहों पर तैनात सुरक्षाकर्मियों को लॉक डाउन का शत-प्रतिशत पालन कराने के निर्देश दिए। उसके बाद पुलिस प्रशासन ने अपने रूख सख्ती लाकर सडक़ों बेवजह घूमने वाले लोगों को पकडक़र उनसे उठक-बैठक लगवाकर लॉक डाउन का पालन करने की हिदायत दी। उधर जिला प्रशासन द्वारा कलक्ट्रेट, नगर निगम, नगर पालिका, नगर पंचायत, गैस एजेंसियों व बैंकों को लॉक डाउन से मुक्त रखा गया था परंतु लॉक डाउन के चलते अधिकतर सरकारी कार्यालय, बैंक व गैंग एजेंसियों में सन्नाटा छाया रहा।

 

सहारनपुर में पुलिसकर्मियों को दिशा-निर्देश देते मंडलायुक्त संजय कुमार।

सहारनपुर में पुलिसकर्मियों को दिशा-निर्देश देते मंडलायुक्त संजय कुमार।

हालांकि गैस एजेंसियों के डिलीवरीमैनों द्वारा घर-घर पहुंचकर गैस सिलेंडरों की सप्लाई की गई। उधर महानगर में सभी प्रमुख चौराहों पर भारी संख्या में सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई थी। उधर लॉक डाउन के दौरान बाहर से किसी तरह सहारनपुर पहुंचे लोग अपने घरों को जाने के लिए परेशान दिखाई दिए। सडक़ों पर लोग पैदल ही घरों को जाते दिखाई दिए। रेलवे स्टेशन पर बाहर से आने वाले लोगों की पूरी तरह जांच करने के बाद ही उन्हें घर जाने दिया गया। उधर मंडी कोतवाली क्षेत्र में एक चाय की दुकान खुली मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने तुरंत बंद कराया तथा हजारों रूपए का चालान काटा। इस दौरान सडक़ पर बेवजह घूम रहे सात लोगों को दबोचकर थाने भेज दिया।

 
 
Top