ब्लड शुगर टेस्ट स्ट्रिप सस्ते में प्राप्त करे
Dr. Morepen BG-03 Blood Glucose Test Strips, 50 Strips (Black/White)

कोरोना महामारी के दौर में फार्मासिस्ट की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण : प्रो0 रणजीत सिंह

 
Shobhit Univeristy -1

गंगोह [24CN]: आदर्श विजेन्द्र इंस्टीट्युट आफ फार्मास्युटिकल सांईसेज में शोभित विश्वविद्यालय के तत्वाधान में ‘नेशनल फार्मेसी वीक‘का आयोजन कराया। यह आयोजन 19 नवम्बर, 2020 से प्रारम्भ हुआ था। ‘नेशनल फार्मेसी वीक‘ प्रतिवर्ष एक नई थीम पर आधारित होता है, इस वर्ष की थीम ‘‘फार्मासिस्टः फ्रंटलाईन हैल्थ प्रोफेशनल्स‘‘ थी।

आयोजन का मुख्य उद्देश्य समाज में फार्मासिस्ट की भूमिका के महत्व को समझना एवं उसे रेखांकित करना है। विशेषतः इस कोरोना महामारी के दौर में फार्मासिस्ट की भूमिका सामान्य समय की तुलना में बहुत अधिक बढ जाती है। आदर्श विजेन्द्र इंस्टीट्युट आफ फार्मास्युटिकल सांईसेज ने पूरे कार्यक्रम को कुछ भागों में विभाजित किया था। मसलन नवम्बर, 19 एवं 20 को विद्यार्थियों की सहभागिता सुनिश्चित करने के उद्देश्य से कई प्रतियोगिताएं आयोजित करायी गई जिनमें भाषण प्रतियोगिता, रंगोली प्रतियोगिता, कविता प्रतियोगिता, गायन एवं नृत्य प्रतियोगिता, वैज्ञानिक थीम पर आधारित पोस्टर प्रंजेंटेशन एवं माॅडल प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। यह सभी आयोजन आॅनलाईन माध्यम से ही आयोजित करायें गये।

कार्यक्रम की औपचारिक शुरूआत कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एवं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 (डा0) रणजीत सिंह के स्वागत के साथ की गई। उन्होंने कहा कि इस वर्ष की ‘नेशनल फार्मेसी वीक‘की थीम का मुख्य उद्देश्य देश के समस्त फार्मासिस्ट एवं फार्मेसी सेक्टर को धन्यवाद ज्ञापित करना है क्योकि वे बिना थके हुए अनेकों चुनौतियों एवं अनिश्चित्ताओं का सामना करते हुए अपना शत प्रतिशत योगदान प्रदान कर रहे है।

प्रो0 (डा0) मदन कौशिक ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि फार्मासिस्ट की भूमिका सर्वविदित है परन्तु इस महामारी के दौर में फार्मासिस्ट की भूमिका को उनके मूल उद्देश्य एवं समाज के प्रति उनकी सहभागिता कई गुना बढा देती है। उन्होने आगे कहा कि कोविड-19 की चुनौती होने के बावजूद भी फार्मेसी एवं हैल्थ केयर प्रोफेशनल्स पूरे मनौयोग से अपनी सेवाएं निर्वाध रूप से प्रदान कर रहे हैं।

shobhit-university-2

विश्वविद्यालय के कुलसचिव डा0 महीपाल सिंह ने भी वर्तमान समय में फार्मासिस्ट एवं हैल्थ केयर प्रोफेशनल्स की भूमिका एवं जिम्मेदारियों पर प्रकाश डाला। प्रो0 आरिफ नसीर ने भी अपने विचार व्यक्त कियें। संजीव पांडे, जनरल मैनेजर सेमसन लेबोरेट्री प्राईवेट लिमिटिड बद्दी हिमाचल प्रदेश ने सम्बोधित करते हुए कहा कि देश में अभी भी स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर कुछ चुनौतिया हैं। यह चुनौतियां फार्मेसी के क्षेत्र में भी है एवं स्वास्थ के क्षेत्र में भी है। चुकि हमारा देश एक विकासशील देश है जिस वजह से हम चुनौतियों का सामना कर रहे है। किन्तु हम यह आशा कर सकते है कि आने वाले कुछ वर्षो में हम इन चुनौतियों पर विजय प्राप्त कर लेंगें। कार्यक्रम में सहभागिता करने वाले छात्र-छात्राओें में अभय धीमान, आंचल वर्मा, मौहम्मद नावेद, समरीन, अंजलि शर्मा, आकाश सिरोही, कल्फान, शाहनवाज एवं सरोज प्रथम एवं द्वितीय स्थान पर रहे।

कार्यक्रम के पश्चात् कैम्पस में वृक्षारोपण का कार्यक्रम सम्पन्न किया गया। जिसमें सभी महानुभवों ने एक-एक पौधा लगाकर वृक्षारोपण कार्यक्रम में श्रमदान दिया। कार्यक्रम के अंत में असिस्टेन्ट प्रोफेसर वैशाली शर्मा ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।

 

कोरोना महामारी को रोका जा सकता है अगर 70 फीसद लोग बाहर हमेशा पहनें मास्क, रिसर्च में दावा

 

 
 
Top