राम ही हमारे जीवन का आधार है राम केवल एक नाम ही नही बल्कि जीवन जीने का आधार है: सच्चिदानंद जी महाराज

राम ही हमारे जीवन का आधार है राम केवल एक नाम ही नही बल्कि जीवन जीने का आधार है: सच्चिदानंद जी महाराज
  • श्रीराम कथा सुनाते कथा वाचक व कथा का श्रवण करते श्रद्धालूगण

देवबंद [24CN] : श्री गीता भवन में चल रही नौ दिवसीय श्रीराम कथा में कथावाचक पंडित देवेश कृष्ण सच्चिानंद जी महाराज ने कहा कि राम का आदेश अपने जीवन मे उतारना ही राम की सच्ची आराधना है। राम ही घट-घट वासी हैं। संपूर्ण जगत राममय है। राम नाम के स्मरन से संसार रूपी भव सागर से पार हुआ जा सकता है।

कथा वाचक पंडित देवेश कृष्ण सच्चिदानंद जी महाराज ने राम अवतरण जन्म उत्सव पर कहा की जब धरती पर त्राहि-त्राहि मची और अत्याचारियों के अत्याचार से पाप बढ़ा तब भगवान ने अवतार लिया और धरती से पाप व अत्याचार मिटाकर धरती का कल्याण किया। इसे दो अक्षर राम नाम की महिमा अपरंपार है। राम नाम का स्मरण करके हम जीवन के कष्टों का निवारण कर सकते है। सच्चिदानंद जी महाराज ने राम जन्मोत्सव पर रामरस की वर्षा करते हुए राम नाम पर प्रकाश डाला। कहा कि राम ही हमारे जीवन का आधार है राम केवल एक नाम ही नही बल्कि जीवन जीने का आधार है। राम नाम सदा शिव भोले शंकर भी अष्ट पर राम राम जपते रहते है। सूर्य, चंद्रमा, अग्नि व वायु सभी में जो शक्ति है वह सब राम ही की है। इसमें मानव निर्माण अभियान के राष्ट्रीय प्रचारक स्वामी सुशील गिरी सच्चिदानंद जी महाराज, सुधीर गर्ग, रितेश बंसल, कांता त्यागी, मंजू शर्मा, सुशील सैनी, प्रमोद बंसल, दीपक प्रमार, अजय सैनी, रूपेश सैनी, पंकज अग्रवाल, पल्लवी वर्मा, सुशील करनावल आदि मौजूद रहे।


पत्रकार अप्लाई करे Apply