आनंदीबेन पटेल के दोबारा सीएम बनने पर ही गुजरात में कोरोना का कहर रुकेगाः स्वामी

 

नई दिल्ली
गुजरात सरकार की लाख कोशिशों के बावजूद गुजरात में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। प्रदेश में अबतक 7 हजार से अधिक कोरोना के पॉजिटिव केस सामने आ गए है। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच इस बात की अटकलें भी काफी तेज हो गईं कि राज्य सरकार महामारी को रोकने में नाकामयाब सिद्ध हो रही है, इस वजह से विजय रूपाणी को मुख्यमंत्री पद से हटाया जा सकता है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, विजय रूपाणी की जगह पर एक नाम के चर्चा की भी शुरुआत हो गई है। शुक्रवार को बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर सीधे गुजरात के मुख्यमंत्री पर निशाना साधा है।

उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि ‘गुजरात में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों और मौतों को रोका जा सकता है। अगर गुजरात का मुख्यंमत्री फिर से आनंदीबेन पटेल को बना दिया जाए।’ स्वामी के ट्वीट से स्पष्ट है कि विजय रूपाणी के नेतृत्व में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकना काफी मुश्किल हो गया है। उन्हें पट से हटाने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं हैं।

सरकार कोरोना को रोकने में बेबस 

गुजरात में तेजी से फैल रहे कोरोना को रोकने के लिए पूरे प्रदेश में लॉकडाउन किया गया है। उसके बावजूद अहमदाबाद जैसे कोरोना प्रभावित शहर में आए दिन लॉकडाउन का उल्लंघन होता है। प्रदेश में 50 से अधिक स्थानों को हॉटस्पॉट बना रखा है। उसके बावजूद कोरोना की रफ्तार में कोई लगाम नहीं लग रही है। नए हॉटस्पॉट एरिया को सील करने जा रही पुलिस को लोगोंं के गुस्से का शिकार भी होना पड़ रहा है। पुलिस और प्रशासन भी बेबस नजर आने लगे हैं।

अहमदाबाद में स्थिति सबसे ज्यादा खराब
गुजरात के अहमदाबाद में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए नगर निगम ने 15 मई तक दूध और दवा की दुकानों को छोड़कर सभी दुकानें बंद करने का आदेश दिया है। यहां तक कि सब्जी, फल और किराने का सामान बेचने वाली दुकानों को भी खोलने की इजाजत नहीं हैं। अहमदाबाद में कोरोना के साढे चार हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। जानकारी के अनुसार, गुजरात में कोरोना के करीब 70 प्रतिशत केस सिर्फ अहमदाबाद से हैं। आंकड़ों की माने तो अहमदाबाद में कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होने की तादाद भी दूसरे शहरों की तुलना में काफी कम है। अहमदाबाद में रिकवरी रेट जहां 16.31 फीसदी है वहीं दिल्ली और मुंबई में रिकवरी रेट करीब 33 फीसदी है

तेजी से फैल रहा प्रदेश में कोरोना का संक्रमण
गुजरात राज्य की मुख्य स्वास्थ्य सचिव जयंति रवि ने कोरोना अपडेट देते हुए बताया कि गुरुवार शाम पांच बजे से शुक्रवार शाम बजे तक राज्य कोरोना वायरस के नये 390 मामले सामने आये है। वहीं इस बीमारी से 24 लोगों की मौत हो गई है। जबकि 163 लोग ठीक होकर घर चले गये है। जयंति रवि ने बताया अहमदाबाद में 269, वड़ोदरा, सूरत 25-25, गाँधीनगर 9, पंचमहाल 6, बनासकांठा 8, बोटाद 3, खेड़ा-जामनगर साबरकांठा 7-7, अरवल्ली 20, भावनगर, आणंद, गीर सोमनाथ और महिसागर 1-1 मामले सामने आए हैं।

इन शहरों में भी कोरोना वायरस के संक्रमण
गुजरात में अभी तक 105387 लोगों की जांच की गई है। जिसमें से अब तक 7403 लोग कोरोना संक्रमित पाये गये हैं। प्रदेश में इस बीमारी से 449 लोगों मौत हो चुकी है। जबकि 1872 लोगों ने इस बीमारी को मात देकर अस्पताल डिस्चार्ज हुए है। राज्य में कोरोना वायरस का सबसे अधिक प्रभाव अहमदाबाद शहर में हैं। यहां अभी तक सबसे ज्यादा 5260 लोग कोरोना संक्रमित हैं, वहीं 343 लोगों की मौत हुई है। अहमदाबाद के अलावा सूरत में 824, वड़ोदरा में 65, राजकोट में 64, भावनगर में 84, आणंद में 77, भरुच में 27, गांधीनगर में 97, पाटण में 24, पंचमहाल में 57, बनासकांठा में 75, नर्मदा में 12, छोटाउदयपुर में 14, कच्छ में 7, मेहसाणा में 42, बोटाद में 51, दाहोद में 19, पोरबंदर में 3, गीर सोमनाथ में 4, खेड़ा में 27, जामनगर में 16, अरवल्ली में 67, साबरकांठा में 17, महिसागर में 43, तापी, डांग और जूनागढ़ 2-2, वलसाड 6, नवसारी 8, देवभूमि द्वारका 4, मोरबी, सुरेन्द्रनगर और अन्य राज्य 1 मामले सामने आये है।

 
 

Related posts

Top