पटाखा फैक्ट्री में आग लगने से आठ श्रमिक झुलसे, चार की हालत गम्भीर

पटाखा फैक्ट्री में आग लगने से आठ श्रमिक झुलसे, चार की हालत गम्भीर
  • सहारनपुर में जिला चिकित्सालय में उपचार कराते पटाखा फैक्ट्री के झुलसे श्रमिक।

सहारनपुर [24CN]। थाना बिहारीगढ़ क्षेत्रांतर्गत सुंदरपुर-शाकम्भरी देवी मार्ग स्थित गांव सतपुरा के समीप पटाखा फैक्ट्री में आग लगने से काम कर रहे आठ मजदूर बुरी तरह झुलस गए। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया तथा फायर ब्रिगेड की गाड़ी बुलाकर बामुश्किल आग पर काबू पाया। उधर एसडीएम बेहट की मौजूदगी में प्रशासनिक अधिकारियों के अमले ने हादसे की जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

मिली जानकारी के अनुसार थाना बिहारीगढ़ क्षेत्रांतर्गत गांव सतपुरा में विगत तीन सालों से पटाखा फैक्ट्री संचालित है। पटाखा फैक्ट्री के कर्मचारी कई बार सुरक्षा उपायों की कमी के आरोप भी लगा चुके हैं। आज दोपहर करीब साढ़े बारह बजे अचानक फैक्ट्री में जिस स्थान पर पटाखे बनाए जा रहे थे, उसी दौरान किसी व्यक्ति के मोबाइल में ब्लास्ट होने से पटाखों में आग लग गई। पटाखों की आवाज सुनकर फैक्ट्री कर्मचारियों में भगदड़ मच गई। बताया जाता है कि फैक्ट्री में अकुशल महिलाएं काम करती हैं जो जान बचाने के लिए अपने कपड़े व सामान छोड़कर भाग खड़ी हुई। वहां मौजूद कर्मचारियों ने आग लगने की सूचना थाना बिहारीगढ़ पुलिस को दी।

सूचना मिलते ही थाना बिहारीगढ़ प्रभारी मनोज चौधरी व उपनिरीक्षक अरविंद शर्मा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे तथा फायर ब्रिगेड की दो गाडिय़ां पहुंचाई। इसी बीच उपजिलाधिकारी बेहट रामजीलाल, एसपी देहात अतुल शर्मा, सीओ बेहट रामकरण सिंह अपने अधीनस्थ कर्मचारियों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे तथा मामले की जांच शुरू कर दी।

हादसे में शक्ति पुत्र राजेश निवासी अलीगढ़, अंकित पुत्र भूरेसिंह निवासी गांव नरौरा जनपद एटा, देवेंद्र व शैलेंद्र पुत्रगण पूरण सिंह निवासीगण नगलावली जनपद एटा, राजू पुत्र सतेंद्र निवासी सादवा जिला हाथरस, इंद्रेश पुत्र जगदीश व जीतू पुत्र अमरसिंह निवासीगण नगला जनपद एटा, सुलेमान पुत्र करीमुद् ीन निवासी गांव माडली जनपद हाथरस शामिल हैं। पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया जहां चार श्रमिकों की हालत गम्भीर बताई जा रही है। समाचार लिखे जाने तक पुलिस प्रशासनिक अधिकारी मामले की जांच-पड़ताल में जुटे थे।


पत्रकार अप्लाई करे Apply