Amit Shah in Assam Targets Congress

असम में गरजे अमित शाह, कहा- कांग्रेस बताए इतने सालों तक रक्तरंजित क्यों रहा राज्य?

गुवाहाटी । असम में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं। इसके मद्देनजर गृहमंत्री अमित शाह राज्य के दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोला। उन्होंने कोकराझार में एक रैली संबोधित करते हुए कहा कि सबसे पुरानी पार्टी ने अतीत में विभिन्न उग्रवादी संगठनों के साथ कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए, लेकिन जो वादे किए गए उन्हें निभाने में विफल रही। अमित शाह ने कहा, ‘जो कांग्रेस पार्टी अपने कालखंड में शांति और विकास नहीं ला सकी वो आज हमें सलाह दे रही है। मैं कांग्रेस पार्टी से पूछना चाहता हूं कि इतने सालों तक असम रक्त रंजित रहा, आपने क्या किया? जो भी किया वो नरेंद्र मोदी की भाजपा सरकार ने किया।’

अमित शाह ने रविवार को कहा कि एक साल पहले शुरू किए गए बोडोलैंड टेरिटोरियल रीजन एकॉर्ड (बीटीआर) ने पूर्वोत्तर में उग्रवाद को खत्म करने की प्रक्रिया शुरू की है। उन्होंने कहा कि आज से ठीक एक साल पहले देश के प्रधानमंत्री के नेतृत्व में बोडो शांति समझौता हुआ और बोडो शांति समझौते के साथ प्रधानमंत्री ने निर्देश दिया कि पूरे उत्तर-पूर्व में जहां-जहां अशांति है, वहां बातचीत कीजिए और शांति का मार्ग प्रशस्त कीजिए।

बोडो क्षेत्र के रोड नेटवर्क के लिए 500 करोड़ रुपये आवंटित

अमित शाह ने यह भी कहा, ‘यहां यह बताने के लिए आया हूम कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा बीटीआर समझौते के सभी खंडों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जो क्षेत्र में शांति और विकास का मार्ग प्रशस्त करेगा। यह क्षेत्र में उग्रवाद के अंत की शुरुआत को चिह्नित करता है। मुझे घोषणा करते हुए बहुत खुशी हो रही है कि बोडो क्षेत्र के रोड नेटवर्क के लिए 500 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं और ये रोड का जाल पूरे बोडो क्षेत्र को विकास के रास्ते पर ले जाएगा।’ उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा सरकार में असम के सभी समुदायों के राजनीतिक अधिकार, संस्कृति और भाषा सुरक्षित है।

भाजपा ही असम को भ्रष्टाचार और आतंकवाद मुक्त बना सकती है

शाह ने इस दौरान यह भी कहा कि प्रधानमंत्री शनिवार को असम में थे और उन्होंने एक लाख से अधिक राज्य के मूल निवासी परिवारों को भू-स्वामित्व प्रमाणपत्र (जमीन के पट्टे) वितरित किए। राज्य सरकार पहले ही बोडो को असम की सहयोगी भाषा बना चुकी है। राज्य के सभी समुदायों की समृद्ध संस्कृति, भाषा और विरासत की रक्षा, संरक्षण और संवर्धन के लिए कई उपाय किए गए हैं। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केवल भाजपा ही असम को भ्रष्टाचार मुक्त, आतंकवाद मुक्त और प्रदूषण मुक्त बना सकती है।

पिछले साल 27 जनवरी के बीटीआर समझौते पर हुआ था हस्ताक्षर

बोडोलैंड टेरिटोरियल एरिया डिस्ट्रिक्ट (बीटीएडी) में शांति के लिए बीटीआर समझौते पर पिछले साल 27 जनवरी को केंद्र सरकार,असम सरकार, नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ बोरोलैंड के सभी चार गुटों और तत्कालीन बोडोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल के प्रमुख हगराम मोहिलरी द्वारा हस्ताक्षर किए गए थे।

Latest News