COVID-19 vaccine doses

Corona Vaccination in India: अबतक करीब 16 लाख लोगों को लगा टीका, जानें- आगे क्या है सरकार का प्लान

नई दिल्ली । भारत में कोरोना वायरस के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान चल रहा है। भारत में अबतक करीब 16 लाख लोगों को टीका लग चुका है। बता दें कि भारत में सिर्फ 6 दिनों में ही 10 लाख लोगो को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई गई है, जो अमेरिका और यूके जैसे देशों से अधिक है। 10 लाख के आंकड़े तक पहुंचने में ब्रिटेन को ब्रिटेन को 18 दिन लगे, जबकि अमेरिका यहां तक पहुंचने में 10 दिन लगे। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि रविवार सुबह 8 बजे तक 15 लाख 82 हजार 201 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है।

अन्य देशों की तुलना में भारत टीकाकरण में आगे

मंत्रालय ने बताया कि भारत में 10 लाख लोगों को वैक्सीन लगाने में केवल 6 दिन लगे। यह गिनती अमेरिका और ब्रिटेन जैसे देशों से अधिक है। ब्रिटेन को 18 दिन लगे जबकि संयुक्त राज्य अमेरिका को 10 लाख तक पहुंचने में 10 दिन लगे। भारत में 24 जनवरी को सुबह 8 बजे तक लगभग 16 लाख लाभार्थियों का टीकाकरण हुआ है। वहीं, बीते 24 घंटे की बात करें तो इस अंतराल में 1 लाख 91 हजार 609 लोगों को 3,512 सत्रों में टीका लगाया गया है। मंत्रालय ने कहा कि टीकीकरण के लिए अब तक कुल 27,920 सत्र आयोजित किए जि चुके हैं।

WHO भी हुआ भारत का मुरीद

कोरोना वायरस के संकट से उबरने में भारत पूरे विश्व के लिए एक मिसाल बन चुका है। देश में बनी वैक्सीन को दुनिया के कई देशों में निर्यात कर भारत ने वैश्विक स्वास्थ्य में अपनी अहम भूमिका निभाई है। यही वजह है कि आज दुनिया के तमाम बड़े देश और राजनेता भारत के इस प्रयास की सराहना कर रहे हैं। अमेरिका और ब्राजील के बाद अब विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है।

दूसरे चरण में पीएम मोदी व अन्य नेताओं को लगेंगे टीके

कोरोना टीकाकरण अभियान के दूसरे चरण में पीएम मोदी को भी कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी। इसी फेज में राज्यों के मुख्यमंत्रियों को भी कोरोना का टीका लगाया जाएगा। बताया जा रहा है कि आम लोगों में वैक्सीन के प्रति भरोसा कायम करने के लिए पीएम मोदी और मुख्यमंत्रियों समेत तमाम नेता भी वैक्सीन लगवाएंगे। दरअसल, कोरोना टीकाकरण अभियान के दूसरे चरण में उन सभी लोगों को वैक्सीन लगाने की योजना है जिनकी उम्र 50 साल के ऊपर है। ऐसे में सभी मुख्यमंत्री, मंत्री, सांसद और विधायक जिनकी उम्र 50 साल से अधिक है, को दूसरे चरण के दौरान कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी। हालांकि कोरोना टीकाकरण का दूसरा चरण कब शुरू होगा, इस बारे में फिलहाल कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है।

कोरोना के खिलाफ भारत अपना रहा ये टेक्नॉलॉजी

कोरोना के खिलाफ भारत लगातार टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट-टेक्नॉलॉजी रणनीति के तहत काम कर रहे है। जिसके परिणास्वरूप भारत में कोरोना के नए मामलों में निरंतर गिरावट दर्ज की जा रही है। भारत में आज 1 लाख 84 हजार 408 सक्रिय मामले बचे हैं, जो की कुल मामलों का 1.73 प्रतिशत है।

भारत में अब तक ठीक होने की दर 96.83 फीसद

आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 15,948 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर रविवार को 1,06,54,533 हो गए, जिनमें से 1,03,16,786 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। देश में मरीजों के ठीक होने की दर बढ़कर 96.83 प्रतिशत हो गई है।

देश में कोरोना के सक्रिय मामले 75 फीसद इन राज्यों में

देश में कोरोना वायरस के सक्रिय मामलों का 75 प्रतिशत हिस्सा सिर्फ केरल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल से है। केरल ने एक दिन में सबसे अधिक 5,283 लोग संक्रमण मुक्त हुए हैं, जबकि महाराष्ट्र में 3,694 लोगों को ठीक हुए हैं। वहीं, केरल ने एक दिन में 6,960 नए मामलों मिले हैं, जबकि महाराष्ट्र में 2,697 नए मामले और कर्नाटक में 902 नए मामले दर्ज किए गए है।

Latest News