Alert: पहली बार एक दिन में 1.26 लाख से अधिक Corona केस, कई राज्यों में नाइट कर्फ्यू

Alert: पहली बार एक दिन में 1.26 लाख से अधिक Corona केस, कई राज्यों में नाइट कर्फ्यू
  • महामारी की शुरुआत से ही अब तक ऐसा पहली बार है, जब एक दिन में 1 लाख 26 हजार से अधिक नए केस सामने आए हैं.

नई दिल्ली: केंद्र सरकार और कुछ राज्यों में कोरोना वैक्सीन कमी को लेकर छिड़ी रार के बीच भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर का कहर काफी विकराल होता दिख रहा है. बीते 24 घंटों में एक दिन में सामने आए कोरोना वायरस के मामलों ने सारे रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए और सबसे अधिक 1.26 लाख का आंकड़ा पार कर लिया. महामारी की शुरुआत से ही अब तक ऐसा पहली बार है, जब एक दिन में 1 लाख 26 हजार से अधिक नए केस सामने आए हैं. बुधवार को लगातार दूसरे दिन कोरोना वायरस के सबसे अधिक मामले दर्ज किए गए. मंगलवार को जहां 1 लाख 15 हजार से अधिक केस सामने आए थे, वहीं बुधवार को यह आंकड़ा करीब 1 लाख 26 हजार से अधिक हो गया. कोरोना के बढ़ते इस कहर को देखते हुए अब पाबंदियां लौट आई हैं. कहीं लॉकडाउन  तो कहीं नाइट कर्फ्यू  का ऐलान हो गया है.

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में नौ अप्रैल से 19 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया गया. वहीं पंजाब सरकार ने राज्यव्यापी नाइट कर्फ्यू को 30 अप्रैल तक बढ़ा दिया. यहां तक कि बेंगलुरु ने भी शहर में स्वीमिंग पूल और जिम सेंटरों को बैन कर दिया है. इसके अलावा गुरुवार से उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ, कानपुर समेत कई शहरों में नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया गया है. देश में कोरोना की दूसरी लहर ने कोरोना की पहली लहर के पीक को पार कर लिया है, जहां सितंबर 2020 में 93 हजार के आसपास केस आते थे, वहीं अभी देश में औसतन 100761 नए दैनिक मामले सामने आ रहे हैं. इसका मतलब है कि दूसरी लहर अपने पीक की ओर बढ़ रही है.

मुंबई, चंडीगढ़ के बाद दिल्ली में भी नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया जा चुका है. दिल्ली में 30 अप्रैल तक पाबंदियां लागू की गई हैं. कोरोना की वजह से सबसे अधिक हालत खराब महाराष्ट्र की है, जहां भारत के कुल कोरोना मामलों में आधा का योगदान इसी राज्य का है. यही वजह है कि महाराष्ट्र के कई शहरों में प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू से लेकर वीकेंड लॉकडाउन तक को लगाया है. इसके अलावा, राजस्थान और गुजरात में भी सरकार ने नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया है.

महाराष्ट्र के बाद छत्तीसगढ़ भारत का दूसरा सबसे बड़ा हॉटस्पॉट बनकर उभरा है, जहां कोरोना वायरस के लगातार केस सामने आ रहे हैं. यही वजह है कि रायपुर जिले में 11 दिनों का पूर्ण लॉकडाउन लगाया गया है. रायपुर में मंगलवार तक 76 हजार से अधिक केस दर्ज किए गए हैं और 1000 से अधिक लोगों की मौतें हो चुकी हैं. बीते 6 दिनों में रायपुर में दस हजार से अधिक केस आए हैं और 93 लोगों की मौत हुई है. भारत में बढ़ते कोरोना केसों के बीच केंद्र सरकार ने आगाह किया कि अगले चार सप्ताह बेहद महत्वपूर्ण  हैं और लोगों को महामारी की दूसरी लहर का मुकाबला करने में सहयोग करना चाहिए. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन ने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि लोगों ने मास्क लगाने जैसे एहतियात को तिलांजलि दे दी है.


पत्रकार अप्लाई करे Apply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *