मेरठ: चंडी देवी मंदिर प्रकरण में पुजारी ने दी मुख्यमंत्री के सामने आत्मदाह की धमकी

 

मेरठ में नौचंदी मैदान स्थित चंडी देवी मंदिर प्रकरण में रविवार को मंदिर के पुजारी और उनके पिता ने प्रेसवार्ता कर समिति के खिलाफ आरोप लगाए। इस दौरान पुजारी ने मुख्यमंत्री के सामने आत्मदाह करने की चेतावनी दी है।

मंदिर परिसर में प्रेसवार्ता करते हुए संजय कुमार शर्मा ने बताया कि यह मंदिर उनकी पैतृक संपत्ति है और मंदिर परिवार की देखरेख में चल रहा है। राजस्व अभिलेखों में भी उनके दादा स्वर्गीय रामचंद्र का नाम दर्ज है। परदादा स्वर्गीय हकीम चंडी प्रसाद की मेरठ शहर और सरधना में बहुत सी भू-संपत्ति थी।

इस मंदिर की वसीयत सन 1898 में परदादा स्वर्गीय हकीम चंडी प्रसाद ने दादा रामचंद्र के नाम की थी। मंदिर के पुजारी महेंद्र शर्मा के पुत्र अधिवक्ता देवेंद्र कुमार शर्मा ने कहा कि सत्ता से जुड़े कुछ लोगों ने चंडी देवी के नाम से समिति का निर्माण किया। पुजारी महेंद्र शर्मा ने लखनऊ जाकर आत्मदाह का ऐलान भी कर दिया। पं. योगेंद्र शर्मा, पवन शर्मा, विशाल शर्मा, ब्राह्मण एकता समिति के अध्यक्ष आशू शर्मा आदि मौजूद रहे।

 
 

Related posts

Top