22 जनवरी का सूर्योदय भारत के उत्कर्ष का सूर्य उदय होगा: सोहन सोलंकी

22 जनवरी का सूर्योदय भारत के उत्कर्ष का सूर्य उदय होगा: सोहन सोलंकी
  • श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र अयोध्या जी से प्राप्त अक्षत हिंदू समाज में निमंत्रण को हुए वितरित
  • 27 जिलों से पहुंचे प्रमुख कार्यकर्ता, अक्षत लेकर अपने-अपने जनपद को हुए रवाना

मेरठ। 22 जनवरी का सूर्योदय भारत के उत्कर्ष का सूर्य उदय होगा। अयोध्या जी में भव्य दिव्य निर्मित भगवान श्री राम जी के मंदिर में रामलला जी विराजित होंगे। 500 वर्षों के संघर्ष व बलिदान के उपरांत यह गौरवशाली दिन इतिहास के पन्नों में दर्ज होगा। यह बात विश्व हिंदू परिषद के क्षेत्र संगठन मंत्री सोहन सोलंकी ने पूजित अक्षत कलश वितरण के आयोजित कार्यक्रम में कहीं।

शुक्रवार को प्रांत के 27 जिलों में कलश वितरण के लिए नगर स्थित बाबा कालेश्वर मन्दिर में कार्यक्रम आयोजित हुआ। जिसमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ व विश्व हिंदू परिषद के प्रमुख कार्यकर्ता अपने-अपने जनपदों के लिए पूजित अक्षत कलश लेने के लिए उपस्थित हुए। इस दौरान कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए विश्व हिंदू परिषद के क्षेत्र संगठन मंत्री सोहन सोलंकी ने कहा श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र अयोध्या जी से पूजित अक्षत (पीले चावल) देशभर में भेजे गए थे। मेरठ प्रांत के प्रमुख कार्यकर्ता यह पूजित अक्षत अपने-अपने जिले में प्रत्येक हिंदू परिवार को निमंत्रण के लिए देंगे।

उन्होंने कहा अयोध्या जी में निर्मित भव्य दिव्य भगवान श्री राम के मंदिर में रामलला जी 22 जनवरी को विराजित होंगे। पूजित अक्षत में कार्यकर्ता 10 क्विंटल चावल व देसी गाय माता का घी शुद्ध हल्दी मिलायेंगे। जिससे वह चावल भी पूजित अक्षत हो जाएंगे।प्रांत से दो थैली दी गई है। जिसमें 2 किलो पूजित अक्षत तो दूसरी में चित्र और पत्रक जो घर-घर जाएंगे। हर गांव के लिए और हर शहर के लिए भेजे गए हैं। प्रत्येक जिला केंद्रो पर श्री रामजन्मभूमि क्षेत्र ट्रस्ट के बैनर तले बैठक होगी। जिले के प्रमुख कार्यकर्ताओं व सभी हिंदू संगठनों को 20 दिसंबर से पूर्व यह बैठक करनी है। यह सामग्री वितरण के लिए गांव-गांव जाएगी। बैठकों में यह सामग्री वितरण की जाएगी जहा से गांव गांव जाएगी।

उन्होंने कहा 1 जनवरी से यह अभियान प्रारंभ होकर 15 जनवरी तक चलेगा। 15 जनवरी मकर संक्रांति को विश्व हिंदू परिषद समरसता के कार्यक्रम आयोजित करता है। श्री राम मंदिर 1989 में शिला पूजन हुआ था तब 3 लाख गांव में पूजन हुआ था। अभी जब निधि संग्रह अभियान हुआ था उस समय 5 लाख से अधिक गांवो में पूजन हुआ था। इस बार पूरे भारत के साढे 5 लाख गांव में प्रत्येक घर जाने का लक्ष्य लेकर यह अभियान चलेंगे। मेरठ 13 हजार गांव है। प्रत्येक हिंदू परिवार में प्रत्येक राम भक्त के यहां यह पूजित चावल, राम मंदिर का चित्र एवं पत्रक पहुंचाया जाएगा। समाज को आमंत्रित किया जाएगा कि भगवान श्री राम का मंदिर बन गया है आप अपनी श्रद्धा के साथ परिवार के साथ मंदिर दर्शन के लिए जाएं। सभी हिन्दू परिवारों को आग्रह किया गया है कि 22 तारीख को प्राण प्रतिष्ठा के दिन अपने गांव एवं मोहल्ले के मंदिर में 11 बजे एकत्रित हो और हनुमान चालीसा का पाठ, भगवान राम की आरती, विजय महामंत्र आदि करे। अयोध्या जी में प्राण प्रतिष्ठा का लाइव देखे भगवान राम जी के उत्सव का आनंद लें।

कहा पूरे भारतवर्ष में राममय वातावरण हो समरसता का वातावरण हो राम सबके हैं सब राम के हैं यह संदेश जाए। हर घर राम सब बोले जय श्री राम” इस भाव को लेकर यह अभियान चलेगा। यह जानकारी सब कार्यकर्ताओं को दी गई है। अंत में भारत के अंदर राम मय वातावरण हो।

इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत संघचालक प्रेमचंद एवं प्रान्त प्रचारक अनिल कुमार का भी मार्गदर्शन उपस्थित कार्यकर्ताओं को प्राप्त हुआ। बड़ी संख्या में प्रांत के जनपदों से आए कार्यकर्ता उपस्थित रहे और अक्षत कलश लेकर अपने-अपने जिला को रवाना हुए। इस अवसर पर संघ के प्रांत प्रचार प्रमुख सुरेन्द्र सिंह, विहिप के प्रांत मंत्री राजकुमार डूंगर, जितेंद्र चौधरी, राजीव गर्ग आदि उपस्थित रहे।

व्हाट्सएप पर समाचार प्राप्त करने के लिए यंहा टैप/क्लिक करे वीडियो समाचारों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल सबस्क्राईब करे