ब्लड शुगर टेस्ट स्ट्रिप सस्ते में प्राप्त करे
Dr. Morepen BG-03 Blood Glucose Test Strips, 50 Strips (Black/White)

किसानों का किसी भी स्तर पर उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं – सूर्य प्रताप शाही

 
Saharanpur DM
  • टेल क्षेत्र के किसानों को सिंचाई सुविधा मिले कृषि अनुसंधान एवं कृषि शिक्षा मंत्री विकास योजना का लाभ अंतिम छोर पर बैठे व्यक्ति को मिलें- प्रभारी मंत्री

सहारनपुर [24CN]।
प्रदेश के कृषि शिक्षा एवं कृषि अनुसंधान विभाग एवं जनपद के प्रभारी मंत्री श्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा है कि किसानों का किसी भी स्तर पर उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं होगा। उन्होंने कहा कि किसी भी धान क्रय केन्द्र से बिना समुचित कारण के किसी भी किसान का धान लौटाया न जायें। क्रय केन्द्रों पर मैनपावर बढ़ाया जाए तथा किसानों को टोकन की व्यवस्था को सुदृढ़ बनाया जाए। उन्होंने सिंचाई विभाग के अभियंताओं को निर्देश दिए कि हर स्थिति में टेल क्षेत्र के किसानों को सिंचाई सुविधा मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि टेल क्षेत्रों को चिन्हित कर अभी से तैयारी पूरी कर लें। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस माहमारी के चलते डोर-टू-डोर सर्वे और सर्विलंास के कार्य में तेजी लाई जाए। उन्होंने जनपद के हर एक ब्लाक में आर्दश आंगनवाड़ी केन्द्र बनाये जाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि विकास योजना को पूरी गति से लागू करें तथा विकास योजनाओं का लाभ अंतिम छोर तक बैठे व्यक्ति मिलें।
श्री सूर्य प्रताप शाही आज यहां सर्किट हाऊस सभागार में विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि कोविड-19 वार्डों में आॅक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति बिना ईलाज के नहीं रहने पाये। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि जिला अस्पताल में डिलीवरी के सम्बन्ध में शिकायतें मिल रहीं है। उन्होंने कहा कि शिकायतांे का प्रभावी नियंत्रण करें तथा लापरवाह व भ्रष्ट कर्मियों को चिन्हित कर उनके विरूद्ध दण्ड़ात्मक कार्रवाही की जाएं। उन्होंने कहा कि सभी प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रांे पर चिकित्सकों तथा दूसरे स्टाफ की तैनाती की जाए। उन्होंने कहा कि संचारी रोगों की रोकथाम के लिए जागरूकता अभियान को पूरी गति से चलाया जाए। गत वर्ष डेंगू प्रभावित क्षेत्रों को चिन्हित कर उनमें अभी से ही जरूरी कदम उठाएं जाए। एण्टी लार्वा व फागिंग समय-समय पर की जाती रहें। उन्होंने आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत छूटे लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड बनाये जाने में तेजी लाये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने जनपद में बड़ी संख्या में लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड न बने होने पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत ज्यादा से ज्यादा डिलीवरी सरकारी अस्पतालों में कराये जाने के निर्देश दिए।

प्रभारी मंत्री ने ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत स्वयं सहायता समूहों को बनाने के लिए महिलाओं का प्रेरित किया जाए। उन्होंने जिलाधिकारी को निर्देश दिए कि स्वयं सहायता समूह को रिवालिंग फंड दिया गया है, उनका मौके पर भौतिक सत्यापन भी कराया जाए। उन्होंने कहा कि जो सहायता समूह अच्छा कार्य कर रहे है, उन्हें बैंक से क्रेडिट लिमिट को बढ़ाने में सहायता की जाए। उन्होंने कहा कि मनरेगा के अंतर्गत किये जा रहे कार्यों में किसी भी स्तर पर लापरवाही अक्षम्य होगी। उन्होने सिंचाई विभाग के द्वारा सिल्ट सफाई के कार्यों पर जनप्रतिनिधियों को नजर रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सिल्ट सफाई में किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरती जाए। उन्होंने कहा कि किसानों को सिंचाई सुविधाओं को समय से उपलब्ध कराया जाए।

श्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि सड़कों का गड्ढ़ा मुक्ति के अभियान को पूरी गति से चलाया जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि अभियान में गुणवत्ता एवं मानकों का ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों में गड्ढ़ा मुक्ति का अभियान चलाया जा रहा है उनकी सूची जनप्रतिनिधियों को उपलब्ध कराई जाए। इस अवसर पर लोक निर्माण विभाग के अभियंता ने बताया कि जनपद मंे 34 नई सड़कों के लिए 47.10 करोड़ रूपए से 76.55 कि.मी. सड़कें बनाये जाने के प्रस्ताव दिये गये थे। 18 सड़कों को पूर्ण कर लिया गया है तथा शेष सड़कों पर कार्य जारी है। इसी प्रकार 49 सड़कों पर 35.03 करोड़ रूपए की लागत से मरम्मत के कार्य कराये जायेंगे। क्षतिग्रस्त 128 सड़कों जिनकी लम्बाई 267.17 किमी. के प्रस्ताव शासन को भेजे गये है। बैठक में बताया गया कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत 18 सड़कों के 112.89 करोड़ रूपए के प्रस्ताव भी शासन को भेजे गए है जिनके शीघ्र स्वीकृत होने की उम्मीद है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि निर्माण कार्यों में तेजी लाई जाए तथा निर्माण में गुणवत्ता एवं मानकों का पालन किया जाए। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्य में किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जायेगा।
कृषि शिक्षा एवं कृषि अनुसंधान मंत्री ने कहा कि धान क्रय केन्द्रों से कोई भी किसान वापिस न जाने पाये। उन्होंने कहा कि धान क्रय केन्द्रों पर लैबर की संख्या में वृद्धि की जाये तथा किसानों के साथ सम्मानीय व्यवहार किया जाए। उन्होंने कहा कि क्रय केन्द्रों पर किसानों को अनावश्यक न रोके रखा जाए। उन्होंने ननौता क्षेत्र में एक नए क्रय केन्द्र स्थापित करने के भी निर्देश दिए। बैठक में बताया गया कि 01 अक्टूबर से जनपद के 7 क्रय केन्द्रों पर खरीद की गयी थी। जनपद में 08 अक्टूबर, 2020 तक 520.1 मिट्रिक टन धान की खरीद हो चुकी है। धान के पीएफएमएस पोर्टल पर 5744 किसानों ने अपना पंजीकरण करया है। जिनमें से 3441 के खातों का सत्यापन पूरा कर लिया गया है। धान देने वाले किसानों के खातें में 72 घंटों के भीतर धान के मूल्य का भुगतान कर दिया गया है। श्री सूर्य प्रताप शाही ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए धान की खरीद करें। साथ ही प्रशासनिक अधिकारी नियमित रूप से इन क्रय केन्द्रों पर निगाह रखें तथा यह सुनिश्चित करें कि किसी भी दशा में किसानों का शोषण न होने पायें।
श्री सूर्य प्रताप शाही ने सौभाग्य योजना के अंतर्गत दिये गये विद्युत कनेक्शनों के अनियमित बिलों पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि योजना के इन अनियमित विद्युत बिलों को अभियान चलाकर दुरूस्त करें। उन्होंने कहा कि मीटरों में यदि खराबी है तो उसे भी तत्काल बदलवाया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि विभाग अपनी कार्य प्रणाली बदले और गलत बिलों के नाम पर किसी भी उपभोक्ता का शोषण बर्दाश्त नहीं होगा। उन्होंने कहा कि राजस्व वसूली में भी तेजी लाई जाए। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों में वसूली अपेक्षाकृत नहीं होगी वहां के अधिकारियों के विरूद्ध कार्रवाही की जायेंगी। बैठक में बेहट क्षेत्र के अधिशासी अभियंता के विरूद्ध शिकायतों को गम्भीरता से लेते हुए कठोर कार्रवाही के निर्देश दिए।
कृषि शिक्षा एवं कृषि अनुसंधान मंत्री ने लीड बैंक मैनेजर को निर्देश दिए कि बैंकों निर्देश दे कि वो के0सी0सी0 भरने में लापरवाही न बरते। उन्होंने कहा कि जिन लाभार्थियों के ऋण स्वीकृत हो चुके है, उन्हें देने में हीला हवाली बर्दाश्त नहीं होगी। उन्होंने स्ट्रीट वैंडर्स योजना के अंतर्गत 587 लोगों को ऋण दिये जाने पर नाराजगी व्यक्त की जबकि इस वर्ष 45 हजार लोगों को योजना का लाभ देेने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने जिलाधिकारी को ऐसे बैंकों को चिन्हित कर दण्ड़ित करने तथा उनके विरूद्ध एफ.आई.आर. करने के भी निर्देश दिए।
जिलाधिकारी श्री अखिलेश सिंह ने प्रभारी मंत्री को भरोसा दिलाया कि निर्माण कार्य में तेजी लाई जायेंगी। सरकार की मंशा के अनुरूप कार्यों को पूरी गति से पूरा कराया जायेंगा। उन्होंने कहा कि सरकारी योजनाओं को समय से पूरा कर उनका लाभ पात्र लाभार्थियों को दिया जायेंगा।
बैठक में केन्द्रीय मंत्री खाद्य, जनवितरण एवं उपभोक्ता मामले श्री रामविलास पासवान के असमायिक निधन पर दो मिनट का मौन रखकर उन्हे श्रद्धांजली अर्पित की गयी।
बैठक में सांसद श्री प्रदीप चैधरी, विधायक श्री देवेन्द्र निम, कुंवर ब्रजेश सिंह, श्री कीरत सिंह, माहपौर श्री संजीव वालिया, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री महेन्द्र सैनी, शहर अध्यक्ष श्री राकेश जैन, मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रणय सिंह, नगर आयुक्त श्री ज्ञानेन्द्र सिंह सहित सभी विभागाध्यक्ष एवं वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।

 
 

Related posts

Top