ब्लड शुगर टेस्ट स्ट्रिप सस्ते में प्राप्त करे
Dr. Morepen BG-03 Blood Glucose Test Strips, 50 Strips (Black/White)

आतंकियों ने बनाई कश्मीर के 40 पत्रकारों की हिटलिस्ट, कल्लू टॉप पर

 

जम्मू: सुरक्षाबलों द्वारा कश्मीर में आतंकवाद के खिलाफ चलाए जा रहे विशेष अभियान से बौखलाए आतंकी संगठनों द्वारा अब प्रैस की आजादी को कुचलने की साजिश की जा रही है। खुफिया एजैंसियों की मानें तो आतंकी संगठनों द्वारा कश्मीर के 40 पत्रकारों की हिटलिस्ट बनाकर प्रैस पर दबाव बनाने की साजिश रची गई है।
PunjabKesari
एजैंसियों के मुताबिक घाटी में सक्रिय विभिन्न आतंकी संगठनों द्वारा बनाई गई 40 पत्रकारों की सूची में ग्रेटर कश्मीर के संपादक फैयाज कल्लू को टॉप पर रखा गया है। आतंकियों की इस साजिश का खुफिया एजैंसियों द्वारा अलर्ट जारी करने के बाद सरकार की ओर से साजिश को नाकाम करने के पुख्ता बंदोबस्त करने की बात कही जा रही है।
PunjabKesari
गौरतलब है कि आतंकियों द्वारा प्रैस की आजादी को कुचल कर कश्मीर में एक बार फिर दहशत का माहौल बनाने की साजिश रची जा रही है ताकि सुरक्षा एजैंसियों को आतंकवाद के खिलाफ मिल रही सफलता और कश्मीर के बदलते माहौल की देश-दुनिया और कश्मीर की आवाम को जानकारी न लग सके।

सनद रहे कि इससे पहले भी आतंकी संगठनों द्वारा पत्रकारों को कई बार निशाना बनाया जा चुका है। 14 जून को मोटरसाइकिल सवार 3 आतंकियों द्वारा प्रैस कालोनी में अपने कार्यालय से शाम 7 बजे निकले राइजिंग कश्मीर के संपादक शुजात बुखारी (पूर्व मंत्री बशारत बुखारी के भाई) की हत्या कर दी गई थी। इसके अलावा हाल ही में बीते 24 सितम्बर को आतंकियों द्वारा कश्मीर में एक सामाजिक कार्यकत्र्ता व वकील बाबर कादरी की भी उसके घर में घुसकर हत्या कर दी गई थी।

बताया जाता है कि आतंकियों को बाबर कादरी पर एजैंसियों के लिए काम करने का शक था। बाबर कादरी द्वारा उनकी हत्या किए जाने के ठीक 3 दिन पहले 21 सितम्बर को एक ट्वीट कर उनको जान का खतरा होने की आशंका जताई गई थी। उल्लेखनीय है कि जम्मू-कश्मीर में 1990 से लेकर अभी तक करीब डेढ़ दर्जन से अधिक पत्रकार आतंकी वारदातों अथवा आतंकियों का निशाना बन चुके हैं। इनमें दूरदर्शन के डायरैक्टर लासा कौल भी शामिल हैं। आतंकियों द्वारा 19 फरवरी 1990 को श्रीनगर के बेमिना इलाके में उनकी हत्या कर दी गई थी।

 
 

Related posts

Top