गोवा में फिर गरमाई सियासत, मंत्री ने कहा कांग्रेस विधायक लोरेंको बन सकते हैं उपमुख्यमंत्री

 

खास बातें

  • 15 विधायकों में से दस को खो चुकी है गोवा कांग्रेस
  • गोवा विधानसभा में कांग्रेस के अब पांच और भाजपा के 27 सदस्य हैं
  • कांग्रेस विधायक रेजीनाल्डो लोरेंको भाजपा में शामिल हो सकते हैं
  • मुख्यमंत्री सावंत ने कहा कि राजनीति में सब कुछ संभव है

गोवा में सियासत एक बार फिर गरमा गई है। करीब तीन महीने पहले कांग्रेस के दस विधायकों के एकमुश्त सत्तारूढ़ भाजपा में चले जाने के बाद एक बार फिर मुख्यमंत्री ने यह कह कर सियासी बदलाव को हवा दे दी कि इस संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता कि कुछ और विपक्षी नेता उनके खेमे में आ सकते हैं।

कांग्रेस विधायक अलेक्सिओ रेजीनाल्डो लोरेंको के यहां आयोजित 50वें जन्मदिन पर शामिल होने आए गोवा सरकार के बंदरगाह मंत्री माइकल लोबो ने दावा किया कि लोरेंको को निकट भविष्य में राज्य का उपमुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। हालांकि उन्होंने इसके आगे जानकारी देे से इंकार कर दिया।

बाद में मुख्यमंत्री सावंत ने इस बात की संभावना से इंकार नहीं किया कि लोरेंको भाजपा में शामिल हो सकते हैं। लोबो के दावे पर पूछे गए सवाल पर सावंत ने कहा कि राजनीति में सब कुछ संभव है। आप को कभी पता नहीं चल पाता। मैंने कहा सबकुछ संभव है। लोरेंको से जब पूछा गया तो उन्होंने कहा कि कांग्रेस छोडने की उनकी कोई मंशा नहीं है।

गोवा कांग्रेस के महज पांच विधायक

गोवा की 40 सदस्यों वाली विधानसभा में कांग्रेस के अब पांच और भाजपा के 27 सदस्य हैं। शेष सीटों पर निर्दलीय, राकांपा, गोवा फारवर्ड पार्टी और महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी का कब्जा है। हालांकि एक समय में कांग्रेस के पास 15 विधायक थे और वह सरकार बनाने के निकट थी पर भाजपा ने बेहतर राजनीतिक कौशल का परिचय दिया और बहुमत वाली सरकार बना ली।
 
 

Related posts

Top