बैंक अधिकारियों की बड़ी लापरवाही… पुलिस ने 60 लाख की रकम के साथ कर्मचारियों को रोका और फिर…

 

मुजफ्फरनगर जिले में बैंक अफसरों की लापरवाही रुकने का नाम नहीं ले रही है। पिछले 20 दिन में दूसरी बार रेलवे रोड पर बैंककर्मियों की बड़ी लापरवाही सामने आई है। शनिवार को रेलवे रोड स्थित एसबीआई की मुख्य ब्रांच से बैंक से बड़ी धनराशि किराये के टाटा-एस में लोड कर प्रकाश चौक स्थित ब्रांच में ले जाई जा रही थी। पुलिस ने ऐनवक्त पर बैंक पहुंचकर उक्त रकम को टाटा-एस से उतरवा दिया। इस मामले में एसएसपी ने बैंक के रीजनल मैनेजर को पत्र लिखकर दोषी बैंककर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की संस्तुति की है।

एसएसपी अभिषेक यादव ने शनिवार दोपहर जनपद के सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने क्षेत्र के बैंकों में पहुंचकर एक से दूसरे बैंकों में धनराशि ले जाने वाली कैश वैन की चेकिंग व उसके चालक व अन्य स्टाफ का सत्यापन करने के निर्देश दिए थे। इसी क्रम में सिविल लाइंस थाना प्रभारी समयपाल अत्री शहर के रेलवे रोड स्थित एसबीआई मुख्य ब्रांच में पहुंचे तो वहां एक खुली टाटा-एस में 60 लाख रुपये की धनराशि प्रकाश चौक स्थित ब्रांच में ले जाने हेतु लोड कराई जा रही थी। एसओ ने इस बाबत पूछताछ की तो पता चला कि कैश वैन के बजाय धनराशि को एक ट्रांसपोर्ट से किराये पर टाटा-एस लाकर उसके माध्यम से रेलवे रोड मुख्य ब्रांच से प्रकाश चौक ब्रांच में ले जाया जा रहा था। 60 लाख की बड़ी रकम को इस तरह लापरवाही से ले जाते देख एसओ ने तत्काल कैश की आवाजाही रुकवाते हुए टाटा-एस को वहां से लौटा दिया और कैश वैन से ही धनराशि ले जाए जाने के निर्देश दिए।

 
 

Related posts

Top