अमित शाह मेरी बात मान जाते, तो महाविकास आघाडी का जन्म ही न होता: उद्धव ठाकरे

अमित शाह मेरी बात मान जाते, तो महाविकास आघाडी का जन्म ही न होता: उद्धव ठाकरे
  • महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि  ये जो कल हुआ, मैं पहले ही अमित शाह से कह रहा था कि 2.5 साल शिवसेना का मुख्यमंत्री हो और वही हुआ. पहले ही अगर ऐसा करते तो महा विकास आघाडी का जन्म ही नहीं होता.

मुंबई: महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Maharashtra Farmer Chief Minister Uddhav Thackeray) ने कहा कि  ये जो कल हुआ, मैं पहले ही अमित शाह (Amit Shah) से कह रहा था कि 2.5 साल शिवसेना का मुख्यमंत्री हो और वही हुआ. पहले ही अगर ऐसा करते तो महा विकास आघाडी (Maha Vikas Aghari) का जन्म ही नहीं होता. शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे ने आगे कहा कि मेरा गुस्सा मुंबई के लोगों पर मत निकालो. मेट्रो शेड के प्रस्ताव में बदलाव न करें. मुंबई के पर्यावरण के साथ खिलवाड़ न करें.

शिवसेना के मुख्यमंत्री नहीं हैं एकनाथ शिंदे

पूर्व CM उद्धव ठाकरे यहीं नहीं रुके, उन्होंने आगे कहा कि जिस तरह से सरकार बनी है और एक तथाकथित शिवसेना कार्यकर्ता को मुख्यमंत्री बनाया गया है, मैंने अमित शाह से यही कहा था. ये सम्मानपूर्वक किया जा सकता था. शिवसेना आधिकारिक तौर पर(उस समय) आपके साथ थी. यह मुख्यमंत्री(एकनाथ शिंदे) शिवसेना के नहीं हैं.

लंबे गतिरोध के बाद उद्धव ने दे दिया था इस्तीफा

बता दें कि महाराष्ट्र में लंबे राजनीतिक गतिरोध के बाद उद्धव ठाकरे को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था. इसके बाद शिवसेना के ही एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है. एकनाथ शिंदे ने करीब 40 शिवसेना विधायकों के साथ उद्धव ठाकरे के खिलाफ विद्रोह कर दिया था, जिसके बाद उद्धव ठाकरे की सरकार कमजोर पड़ गई. उद्धव ठाकरे एनसीपी और कांग्रेस की मदद से महाराष्ट्र में महाविकास आघाडी सरकार चला रहे थे, लेकिन अब राज्य में शिवसेना और बीजेपी ने सरकार बनाई है, जिसमें एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री बने हैं, तो महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है.


पत्रकार अप्लाई करे Apply