सिंधिया पर निशाना साध बोले दिग्विजय सिंह- फ्लोर टेस्ट के नतीजे चौंका देंगे, इंतजार करिए

 
  • मध्य प्रदेश में सरकार के खतरे पर बोले दिग्विजय सिंह- फ्लोर टेस्ट सबको चौंका देगा
  • दिग्विजय सिंह ने कहा कि इस परिस्थिति में कमलनाथ का धैर्य काबिले-तारीफ है
  • कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया इस्तीफा देंगे, ऐसी उम्मीद नहीं थी

भोपाल: मध्य प्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस छोड़ दी है। इस बगावत से कमलनाथ सरकार खतरे में आ गई है। हालांकि, दिग्विजय सिंह ने कहा है कि कमलनाथ की सरकार को कोई खतरा नहीं है। दिग्विजय ने यह भी कहा है कि आने वाले दिनों में होने वाला फ्लोर टेस्ट सबको चौंका देगा। एमपी के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने पर हैरानी भी जताई। बाद में उन्होंने अपने ट्वीट्स के जरिए ज्योतिरादित्य सिंधिया पर जमकर शब्द बाण भी छोड़े।

NBT

विधानसभा में फिलहाल क्या स्थिति

दिग्विजय सिंह ने कहा कि जिस भी दिन फ्लोर टेस्ट होगा, उसके नतीजे सबको चौंका देंगे। पूर्व सीएम दिग्विजय ने कमलनाथ की तारीफा करते हुए कहा कि इस परिस्थिति में वह जिस तरह का धैर्य दिखा रहे हैं, मैं उसकी कद्र करता हूं। सिंधिया को आड़े हाथ लेते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘उन्हें अमित शाह या निर्मला सीतारमण की जगह देनी चाहिए, वह इन दोनों से बेहतर काम कर सकते हैं। हम कामना करते हैं कि वह मोदी-शाह के संरक्षण में आगे बढ़ेंगे। हम महाराज को बधाई देते हैं।’

दिग्विजय बोले- उम्मीद नहीं थी कि इस्तीफा दे देंगे सिंंधिया
इंडियन एक्सप्रेस अखबार को दिए गए इंटरव्यू में दिग्विजय सिंह ने कहा है कि उन्हें बिलकुल उम्मीद नहीं थी कि ज्योतिरादित्य सिंधिया इस्तीफा दे देंगे। दिग्विजय ने दुख जताया कि सिंधिया ने इस काम के लिए अपने पिता के जन्मदिन को चुना। राज्यसभा टिकट के सवाल पर दिग्विजय ने कहा है कि सिंधिया को ना कौन कहेगा? हम सब उनका समर्थन कर रहे थे, ऐसी कोई बात ही नहीं है।

मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने का दोष दिग्विजय सिंह ने बीजेपी पर मढ़ाकांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस से इस्तीफे के बाद कमलनाथ सरकार के संकट में आने का पूरा दोष बीजेपी पर मढ़ा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के विधायकों को बेंगलुरू ले जाने की सारी व्यवस्था बीजेपी ने कराई है। साथ ही कहा कि यदि शिवराज सिंह चौहान यह कह रहे हैं कि उनका कोई हाथ नहीं तो वह झूठ बोल रहे हैं। दिग्विजय सिंह ने कहा कि बीजेपी के 15 साल के कारनामों और घोटालों की जांच को सामने लाने का काम कमलनाथ सरकार कर रही है। इसलिये बीजेपी परेशान है और राज्य सरकार को अस्थिर कर रही है।

दिग्विजय सिंह आगे कहते हैं, ‘हम उन्हें राज्य कांग्रेस का अध्यक्ष और मध्य प्रदेश का डेप्युटी सीएम भी बनाने को तैयार थे। मैंने करीब तीन-चार महीने पहले इस बारे में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी बातचीत की थी। सिंधिया पिछले तीन महीने से बीजेपी से डील कर रहे थे। वह सीधे तौर पर अमित शाह के संपर्क में थे लेकिन गुना और दतिया के नेता इसका विरोध कर रहे थे। बीजेपी के लोग जब कांग्रेस नहीं तोड़ पाए तो खुद अमित शाह ने बागडोर संभाल ली। पिछले तीन महीने से यही सब चल रहा है।’

दिग्विजय ने की कमलनाथ के धैर्य की तारीफ
कमलनाथ की सरकार अब गिरने वाली है? इस सवाल पर दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘आप चौंक जाएंगे। शायद 18 मार्च को फ्लोर टेस्ट होगा तो नतीजे हैरान करने वाले होंगे। मैं इस उम्र में भी आपसे इस बाता का दावा कर सकता हूं। इस स्थिति में कमलनाथ ने जिस तरह का धैर्य और जज्बा दिखाया है, मैं उसकी तारीफ करता हूं।’

दिग्विजय सिंह ने यह भी बताया कि वह और कमलनाथ सिंधिया के संपर्क में थे। दिग्विजय कहते हैं, ‘कमलनाथ ने सिंधिया से संपर्क किया और वे दिल्ली में मिलने वाले थे। मैंने भी उनसे बात की थी लेकिन अचानक उन्होंने मेरा फोन उठाना बंद कर दिया और अपना फोन स्विच ऑफ कर लिया। अब वह मांग कर रहे हैं कि उनके जिन 15 विधायकों ने इस्तीफा दिया है, उन्हें मंत्री बनाया जाए।’

 
 
Top