डिम्पल को मैनपुरी सीट सौंपने के बाद अखिलेश यादव का बड़ा ऐलान!, यूपी की इस हॉट सीट से लड़ेंगे चुनाव

डिम्पल को मैनपुरी सीट सौंपने के बाद अखिलेश यादव का बड़ा ऐलान!, यूपी की इस हॉट सीट से लड़ेंगे चुनाव

मैनपुरी लोकसभा सीट सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के निधन की वजह से रिक्त हुई है. इस सीट के लिये उपचुनाव के लिए आगामी पांच दिसंबर को मतदान होगा.

New Delhi : मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने खाली हुई मैनपुरी लोकसभा सीट पर पत्नी डिम्पल यादव को उपचुनाव में उतार कर पिता की विरासत सौंप दी है. डिम्पल यादव कन्नौज सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ चुकी हैं और वह इस सीट से सांसद रह चुकी हैं. अब डिम्पल यादव के मैनपुरी सीट से चुनाव लड़ने के बाद सपाईयों के बीच असमंजस की स्थिति बनी हुई थी. अखिलेश यादव ने सपाईयों की ऊहापोह को खत्म करते हुए 2024 में कन्नौज सीट से चुनाव लड़ने के संकेत दिए हैं. कन्नौज में एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने आए सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने पत्रकार वार्ता में आने वाले 2024 के चुनाव में कन्नौज संसदीय सीट से उतरने के संकेत दिए हैं.

इशारों इशारों में अखिलेश यादव ने कन्नौज से आगामी लोकसभा चुनाव लड़ने का बिगुल बजा दिया. कहा कि हम क्या करेंगे खाली बैठकर, हमारा काम ही चुनाव लड़ना है. जहां से पहला चुनाव लड़ा वहां से फिर लड़ेंगे. अखिलेश ने कहा कि जहां से पहला चुनाव लड़ा था वही से 2024 का चुनाव लडूंगा. जाहिर है कि अखिलेश यादव ने कन्नौज सीट से पहला चुनाव लड़ा था.

‘मैनपुरी चुनाव में सपा की होगी शानदार जीत’

सपा मुखिया अखिलेश यादव ने आगे कहा कि, उत्तर प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर बिल्कुल ध्वस्त हो गया है.उन्होंने कहा कि सरकार खुद मान ले कि राज्य में लॉ एन ऑर्डर खत्म हो गया है. पुलिस पिट रही है अपराधी पुलिस की रिवाल्वर छीन रहे हैं. अखिलेश ने कहा कि,उत्तर प्रदेश में महिलाएं बिल्कुल सुरक्षित नहीं हैं. लगातार महिला संबंधित अपराध हो रहे हैं. कन्नौज सहित उत्तर प्रदेश के तमाम जिलों में लगातार महिला संबंधित बड़े पैमाने पर अपराध हो रहे हैं. वहीं अखिलेश ने आगे कहा कि, अखिलेश यादव ने कहा कि,मैनपुरी चुनाव में सपा की अच्छी जीत होगी, क्योंकि सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने मैनपुरी के लिए बहुत कुछ किया है.

पांच दिसंबर को होगा मैनपुरी में मतदान

मैनपुरी लोकसभा सीट सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के निधन की वजह से रिक्त हुई है. इस सीट के लिये उपचुनाव के लिए आगामी पांच दिसंबर को मतदान होगा. सपा ने उपचुनाव में मुलायम की बहू और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी डिम्पल यादव को उम्मीदवार बनाया है. वहीं, भाजपा ने रघुराज शाक्य को प्रत्याशी बनाया है. मैनपुरी सीट सपा का गढ़ है. इटावा स्थित मुलायम का पुश्तैनी गांव सैफई मैनपुरी लोकसभा क्षेत्र का ही हिस्सा है.

गौरतलब है कि मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव के प्रचार के दौरान मुलायम सिंह यादव का पूरा परिवार एकजुट नजर आ रहा है. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और उनके चाचा शिवपाल सिंह यादव एक साथ चुनावी रैलियां कर रहे हैं. हालांकि, पिछले कुछ वर्ष में उनके बीच आपसी मतभेद रहे थे. उनके साथ सपा के प्रमुख महासचिव राम गोपाल यादव भी मंच साझा कर रहे हैं. रामगोपाल यादव के 2016 में सपा में वर्चस्व की जंग शुरू होने के बाद शिवपाल के साथ रिश्ते तल्ख हो गये थे.


पत्रकार अप्लाई करे Apply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *