ब्लड शुगर टेस्ट स्ट्रिप सस्ते में प्राप्त करे
Dr. Morepen BG-03 Blood Glucose Test Strips, 50 Strips (Black/White)

किसान विरोधी बिल के खिलाफ 21 सितंबर को सभी जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन करेगी आम आदमी पार्टी

 

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी (आप) के अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने रविवार को कहा कि भाजपा सरकार किसानों का दुख दर्द सुनने के बजाय पूरे कृषि क्षेत्र को पूजीपतियों के हाथ सौंपने की साजिश कर रही है । जिसका सड़क से संसद तक विरोध किया जायेगा। सिंह ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने साफ कर दिया है कि उनकी पार्टी इस किसान विरोधी बिल का पुरजोर विरोध करेगी। पार्टी सांसद और उत्तर प्रदेश के प्रभारी संजय सिंह ने राज्यसभा में चर्चा के दौरान सरकार की नियति का खुलासा किया है।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पूरे देश में सर्वाधिक आबादी वाले इस उत्तर प्रदेश में किसानों की हालत पहले से ही बदतर है। प्रदेश की योगी सरकार किसानों को खाद बीज बिजली पानी उपलब्ध नहीं करवा पा रही। किसी तरह किसान खून पसीने की कमाई लगाकर जी तोड़ मेहनत कर फसल तैयार करता है तो उसकी फसल को छुट्टा जानवर बर्बाद कर देते हैं। गन्ना किसानों के बकाए का भुगतान नहीं हो रहा है। प्रदेश का किसान आत्महत्या को मजबूर है। योगी सरकार पूंजीपतियों के साथ खड़ी है। आम आदमी पार्टी किसानों के साथ अन्याय नहीं होने देगी।

पार्टी के मुख्य प्रदेश प्रवक्ता वैभव माहेश्वरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश कृषि प्रधान प्रदेश है।कृषि से ही यहां की अर्थव्यवस्था चलती है। पंजाब,हरियाणा की तरह उत्तर प्रदेश के किसान न तो आर्थिक रूप से इतने सक्षम है और न ही प्रदेश के किसानों के पास बड़े खेत हैं। उत्तर प्रदेश में इस किसान विरोधी बिल का सबसे ज्यादा प्रभाव दिखेगा क्योंकि प्रदेश की आबादी का सबसे बड़ा हिस्सा खेती किसानी से जुड़ा है।पार्टी प्रवक्ता महेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि किसान विरोधी बिल के खिलाफ आम आदमी पार्टी कल 21 सितंबर को उत्तर प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर विरोध प्रदर्शन करेगी।

 
 

Related posts

Top