अमित शाह से सिद्धू की मुलाकात की अटकलें, तो फिर कांग्रेस को याद आए ‘गुरु’

 

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की कैबिनेट से इस्तीफा देने वाले नवजोत सिंह सिद्धू के प्रति अचानक ही कांग्रेस में प्रेम उमड़ने लगा है। पंजाब प्रदेश कांग्रेस प्रधान सुनील जाखड़ ने बयान में करतारपुर कॉरिडोर खुलने का सारा श्रेय नवजोत को दिया है।

पंजाब की सियासत में गुरुवार को यह बदली हुई हवा उस समय शुरू हुई जब सुबह सोशल मीडिया पर यह खबर वायरल होने लगी कि नवजोत सिद्धू नई दिल्ली में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की है और बैठक में शिअद अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल से संबंध सुधारने को लेकर चर्चा हुई है। हालांकि भाजपा या अकाली दल की ओर से इस मुलाकात की पुष्टि नहीं की गई है।

इसके कुछ समय बाद ही पंजाब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने चंडीगढ़ में कहा कि करतारपुर कॉरिडोर खुलवाने में सबसे बड़ा योगदान सिद्धू का रहा है, जिसे भुलाया नहीं जा सकता। जाखड़ गुरुवार को पंजाब कांग्रेस भवन में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उधर, डेरा बाबा नानक में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से जब पत्रकारों ने सिद्धू को लेकर सवाल किया तो उन्होंने इस पर कुछ कहने से इंकार कर दिया। सिद्धू ने भी गुरुवार को पत्रकारों से दूरी बनाए रखी।

उल्लेखनीय है कि कैप्टन-सिद्धू विवाद के बाद गुरुवार को पहला मौका आया जब प्रदेश कांग्रेस की ओर से नवजोत सिद्धू के बारे में कोई बात कही गई। यह भी गौर करने वाली बात है कि श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व की तैयारियों के तहत करतारपुर कॉरिडोर निर्माण के मामले में पंजाब सरकार के किसी मंत्री ने कभी सिद्धू का जिक्र नहीं किया।

 
 

Related posts

Top