आत्मनिर्भर भारत दुनिया से देश को जोड़ने वाला नारा, इससे बढ़ेंगे रोजगार: प्रकाश जावड़ेकर

आत्मनिर्भर भारत दुनिया से देश को जोड़ने वाला नारा, इससे बढ़ेंगे रोजगार: प्रकाश जावड़ेकर

हैदराबाद । आत्मनिर्भर भारत यह देश को सबसे अलग करने वाला नारा नहीं है बल्कि यह देश को अपने पैरों पर खड़ा करने वाला संकल्प है। यह संकल्प हमें बाकी दुनिया से और बेहतर तरीके से जोड़ेगा। यह बात वरिष्ठ भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कही है। आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में स्नातक छात्रों की भूमिका पर तेलंगाना भाजपा द्वारा आयोजित सेमिनार में जावड़ेकर ने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया से भारत में निवेश करने के लिए कहा है।

भारत में निर्माण करने के लिए कहा है। इसके बाद हम तैयार उत्पाद को गर्व से मेड इन इंडिया के टैग के साथ बेच सकेंगे। यह आत्मनिर्भर भारत की मूल सोच है। यह दुनिया से खुद को अलग करने वाली सोच नहीं है। भारत की सबसे अलग होने वाली सोच भी नहीं है। आत्मनिर्भर भारत अपने पैरों पर खड़ा भारत होगा, जिसमें आयात कम और निर्यात ज्यादा होगा।

इसमें तमाम रोजगार पैदा होंगे और विदेशी मुद्रा आएगी। जावडेकर ने कहा, सात साल की मोदी सरकार में किसी एक मंत्री पर भी भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा। हम सारे कार्य वही कर रहे हैं जो जनता के हित में हैं और जो हमसे लोग चाहते हैं। जबकि पूर्व की संप्रग सरकार के कार्यकालों में स्थिति इसके उलट थी। देश के भीतर भी शांति है और सात साल में किसी भी राज्य में बम विस्फोट होने की घटनाएं नहीं हुई हैं। समाज के हर वर्ग के फायदे के लिए योजनाएं लागू की गई हैं जिनसे लोगों का जीवन आसान हुआ है-सुविधाएं बढ़ी हैं। जावडेकर ने उम्मीद जताई की निकट भविष्य में पेट्रोलियम उत्पादों की बढ़ी कीमतें कम होंगी और लोगों को राहत मिलेगी।

यह भी पढे >> जेपी नड्डा का कांग्रेस पर करारा वार, बोले- विपक्षी पार्टी का काम भाई को भाई से लड़ाना (24city.news)


पत्रकार अप्लाई करे Apply