जेकेएलएफ के नेतृत्व में एलओसी के पास पहुंचे पाकिस्तानी, सीमा पर भारतीय सेना मुस्तैद

 

पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में प्रतिबंधित अलगाववादी संगठन जेकेएलएफ के नेतृत्व में लोगों ने भारत को गीदड़ भभकी देने के लिए मार्च निकाला। इस मार्च का मुख्य उद्देश्य भारत द्वारा जम्मू कश्मीर को लेकर उठाए गए कदम का विरोध करना था।

इस मार्च में ज्यादातर युवा शामिल थे। इन लोगों ने 20 किलोमीटर तक पैदल मार्च किया और भारत को गीदड़ भभकी देते हुए नारेबाजी की। इन लोगों ने ख्वाब तो एलओसी पार करने के देखें थे लेकिन भारतीय सेना के पराक्रम को याद कर इन्होंने एलओसी के नजदीक जाने का प्लान रद्द कर दिया।

वहीं, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार को प्रदर्शनकारियों को एलओसी पार न करने की चेतावनी देते हुए कहा कि अगर कोई भी एलओसी पार करके कश्मीरियों की सहायता करने जाएगा और उसे भारतीय सेना द्वारा पकड़ लिया गया तो उसे आंतकवादी घोषित कर दिया जाएगा।

शुक्रवार को शुरू हुए इस मार्च में पाकिस्तानियों ने अपनी गाड़ियों से पीओके के विभिन्न क्षेत्रों से मार्च शुरू किया था और एलओसी के करीब पहुंचे। इन्होंने भारत के खिलाफ जहर उगलते हुए नारेबाजी की। ये लोग कश्मीर के स्वतंत्र राज्य बनने को लेकर नारेबाजी कर रहे थे।

वहीं, शुक्रवार को पीओके के नेताओं ने प्रतिबंधित जेकेएलएफ के नेताओं से बातचीत की और कहा था कि वे इस मार्च को एलओसी के ज्यादा करीब नहीं ले जाए अन्यथा भारतीय सेना उनपर कार्रवाई भी कर सकती है।

 
 

Related posts

Top