विशाखापट्टनम टेस्ट में भारत की विशाल जीत, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में 1-0 से आगे

 

विशाखापट्टनम के राजशेखर रेड्डी स्टेडियम पर खेले गए तीन टेस्ट मैच की सीरीज के पहले मुकाबले को 203 रन से जीतकर टीम इंडिया ने सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली। आखिरी दिन 395 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीकी टीम 191 रन पर ऑलआउट हो गई

पांचवे दिन के पहले सत्र में भारतीय गेंदबाजों ने कमाल की गेंदबाजी करते हुए सात विकेट झटक मुकाबले को भारत के पाले में कर दिया। लंच के बाद के सत्र में दो विकेट लेकर भारत ने विशाखापट्टनम टेस्ट को अपने नाम कर लिया।

अश्विन ने इस मैच में कुल 8 विकेट लिए, जडेजा ने चार, मोहम्मद शमी ने पांच और इशांत शर्मा ने दो विकेट चटकाए। अश्विन ने इस मैच में टेस्ट करियर के 350 विकेट पूरे किए। रोहित शर्मा ने दो शतक जड़े (176,127) और मयंक अग्रवाल ने दोहरा शतक (215) लगाया। दक्षिण अफ्रीका की ओर से डीन एल्गर ने पहली पारी में 160 रन बनाए और क्विंटन डीकॉक ने 111 रन बनाए।

मयंक-रोहित का जलवा

रोहित शर्मा

रोहित शर्मा – फोटो : social media
टेस्ट मैच के पहले दिन भारतीय कप्तान ने टॉस जीता और बल्लेबाजी चुनी। टेस्ट करियर में पहली बार पारी ओपन करने आए रोहित शर्मा ने शानदार शतक जड़ा और उनका बखूबी साथ निभाया मयंक अग्रवाल ने। पहले दिन भारतीय टीम ने बिना कोई विकेट गंवाए 59.1 ओवरों में 202 रन स्कोर बोर्ड पर लगा दिए। पहले टेस्ट का पहला दिन खराब मौसम की वजह से जल्द ही समाप्त हो गया।

विशाखापट्टनम टेस्ट के दूसरे दिन टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल और रोहित शर्मा ने एकबार फिर अफ्रीकी गेंदबाजों को परेशान किया। मंयक अग्रवाल ने पहले सत्र में शतक जड़ा और फिर धमाकेदार खेल दिखाते हुए उसे दोहरे शतक में तब्दील कर दिया।

मयंक-रोहित की जोड़ी ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत की सबसे बड़ी ओपनिंग साझेदारी का रिकॉर्ड अपने नाम किया। 317 रन की ओपनिंग साझेदारी करते हुए राहुल द्रविड़ और वीरेंद्र सहवाग का 11 साल पुराना बड़ा रिकॉर्ड तोड़ा। सहवाग-गंभीर ने साल 2008 में खेले गए चेन्नई टेस्ट मैच में 268 रन की ओपनिंग पार्टनरशिप का रिकॉर्ड बनाया था। भारतीय टीम ने खेल के दूसरे दिन 502/7 पर पहली पारी घोषित की।

दक्षिण अफ्रीकी पारी

डीन एल्गर

डीन एल्गर – फोटो : social media
भारत के पारी घोषित करने के बाद अपनी पहली पारी में बल्लेबाजी करने उतरी दक्षिण अफ्रीकी टीम की शुरुआत बेहद ही खराब रही और 39 रन पर तीन विकेट गंवा दिया। शुरुआती विकेट गिरने के बाद तीसरे दिन डीन एल्गर और कप्तान फाफ डूप्लेसिस ने पारी को संभाला। एल्गर ने 160 रन बनाए वहीं डूप्लेसिस ने भी 55 रन की पारी खेली।

भारत में अपना पहला टेस्ट खेल रहे क्विंटन डीकॉक ने भी दो जीवनदान का पूरा फायदा उठाते हुए 111 रन की पारी खेल डाली। तीनों की पारी की मदद से मेहमान टीम ने अपनी पहली पारी में 431 रन बनाए, लेकिन भारतीय टीम के पहली पारी के स्कोर 502 से 71 रन पीछे ही रही। अश्विन ने सात विकेट चटकाकर अफ्रीकी पारी को समेटने में अहम भूमिका निभाई।

71 रन के बढ़त के साथ अपनी दूसरी पारी की खलने उतरी भारतीय टीम को पहला झटका जल्दी ही लगा पहली पारी में दोहरा शतक लगाने वाले मयंक अग्रवाल सात रन बनाकर आउट हो गए, लेकिन रोहित ने दूसरी पारी में भी शानदार शतक ठोक दिया।

रोहित शर्मा और चेतेश्वर पुजारा के बीच 169 रन की साझेदारी निभाई। कप्तान विराट कोहली ने 323/4 पर दूसरी पारी घोषित कर दी। दूसरी पारी में रोहित शर्मा 127, पुजारा ने 81 रन बनाए और रवींद्र जडेजा ने तेजी से 40 रन बनाए।

 
 

Related posts

Top