घटना के दस महीने बाद विवाहिता की मौत को लेकर न्यायालय के आदेश पर दर्ज हुआ मुकदमा।

देवबंद [24CN]: शादी के  सात महीने बाद विवाहिता की हत्या कर आत्महत्या की चर्चा फैलाने का आरोप लगाते हुए ससुरालियों के खिलाफ ग्रामीण ने घटना के दस माह बाद न्यायालय के आदेश पर कोतवाली में मुकदमा कायम कराया सपुलिस ने आरोपियों के खिलाफ  मुकदमा दर्ज कर विवाहिता की मौत का सच क्या है इस तथ्य को लेकर घटना  की जांच शुरू कर दी।

क्षेत्र के ग्राम झबीरण निवासी सुमित की शादी रामपुर मनिहारान निवासी पूजा से हुई थी शादी के सात महीने बाद 10 मार्च 2021 की रात्रि में पूजा की संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी और उसके ससुराल वालों ने आत्महत्या की बात कहकर अंतिम संस्कार कर दिया था, मृतक पूजा के मायके वालों ने भी इसके बाद कोई कार्यवाही नहीं की थीस, पूजा की मौत के तीन महीने  गुजरने के बाद उसके पति सुमित ने  दूसरी शादी कर ली थी। न्यायालय के आदेश पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने वाले गांव के प्रमोद कुमार पुत्र जय नंद ने बताया कि वह 20 जून 2021 को सुमित के भाई सुनील के घेर में गया था वहां बातों बातों में सुनील ने पूजा की हत्या का राज खोलते हुए बताया कि पूजा ने आत्महत्या नहीं की थी बल्कि उसकी हत्या की गयी थी।

प्रमोद का कहना है कि यह बात सुनने के बाद उसकी आत्मा पर बोझ हो गया उसे ऐसा लगा कि अगर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कराई तो वह भी उनके पाप में भागीदार हो जाएगा। पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर आरोपी पति सुमित सहित नरेंद्र,चंद्रवती, सुनील, श्रीमती नीरज के खिलाफ धारा 302 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया हैस , प्रमोद का कहना है कि 12 जुलाई 2021 को  कोतवाली में आरोपियों के खिलाफ प्रार्थना पत्र दिया था जिस पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया। कोतवाल प्रभाकर कैंतूरा ने बताया कि मुकदमे के आधार पर मामले की जांच शुरू कर दी गई है दोषी पाए जाने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।


पत्रकार अप्लाई करे Apply