इस्लाम और पैगंबर मोहम्मद साहब पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाले महंत के विरुद्ध कार्रवाई की मांग

इस्लाम और पैगंबर मोहम्मद साहब पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाले महंत के विरुद्ध कार्रवाई की मांग
National General Secretary Maulana Mahmood Madni
  • मौलाना महमूद मदनी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर की मांग

देवबंद [24CN] : जमीयत उलमा-ए-हिंद के राष्ट्रीय महासचिव मौलाना महमूद मदनी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर इस्लाम और पैगंबर मोहम्मद साहब पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाले महंत के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है। मौलाना मदनी का कहना है कि देश में फसाद फैलाने वाले तत्व आए दिन हौंसला पा रहे हैं। इसलिए इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई किया जाना बेहद जरुरी है।

बुधवार को जारी बयान में मौलाना महमूद मदनी ने कहा कि दिल्ली स्थित प्रेस क्लब आफ इंडिया में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान गाजियाबाद के शिव शक्ति धाम डासना मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती द्वारा इस्लाम व पैगंबर मोहम्मद साहब के प्रति अमर्यादित टिप्पणी करने से मुस्लिम समाज में भारी रोष बना हुआ है। नरसिंहानंद का इस प्रकार की टिप्पणी करने का यह पहला मामला नहीं है। इससे पूर्व भी वे धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी करते रहे हैं। लेकिन आज तक उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई।

बताया कि इस मामले में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर नरसिंहानंद सरस्वती के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत कार्रवाई करने की मांग की है। इसके साथ ही जमीयत पदाधिकारियों की ओऱ से थाना आईपी स्टेट में एफआईआर भी दर्ज कराई गई है। वहीं, जमीयत दावतुल मुसलीमीन के संरक्षक व प्रसिद्ध आलिम-ए-दीन मौलाना कारी इस्हाक गोरा ने भी नरसिंहानंद सरस्वती के बयान को शर्मनाक बताते हुए शासन से कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है।

उनका कहना है कि नरसिंहानंद एक नहीं अनेकों बार धार्मिक भावनाएं भड़का कर देश का माहौल खराब करने का प्रयास कर चुके हैं। इसलिए उन पर कार्रवाई किया जाना


पत्रकार अप्लाई करे Apply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *