केंद्रीय मंत्री आठवले की UP में क्षत्रियों को 15 प्रतिशत आरक्षण देने की मांग, राहुल गांधी पर उठाया सवाल

केंद्रीय मंत्री आठवले की UP में क्षत्रियों को 15 प्रतिशत आरक्षण देने की मांग, राहुल गांधी पर उठाया सवाल

लखनऊ । केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में राज्य मंत्री रामदास आठवले शनिवार को लखनऊ दौरे पर थे। इस दौरान उन्होंने वीवीआइपी गेस्ट हाउस में मीडिया से भी वार्ता की। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री आठवले ने उत्तर प्रदेश में क्षत्रियों को 15 प्रतिशत आरक्षण देने की मांग की।

रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामदास आठवले ने कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के आज के वाराणसी दौरे पर तीखी चुटकी ली। उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी वाड्रा मंदिर या कहीं भी जाएं, कांग्रेस में राहुल गांधी के रहते उस पार्टी का भला नहीं हो सकता।

यूपी में क्षत्रियों को मिले 15 फीसद आरक्षण: जातीय जनगणना की पैरवी करने के साथ ही आठवले ने कहा कि महाराष्ट्र में मराठा, राजस्थान में जाट और उत्तरप्रदेश में क्षत्रिय आरक्षण मांग रहे हैं। सरकार से वह मांग कर रहे हैं कि इन सभी को 10-15 फीसद आरक्षण मिलना चाहिए।

पांच राज्यों में लड़ेगी आरपीआइ: उन्होंने कहा कि हाल ही में पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इस दौरान उनकी पार्टी सभी राज्यों में चुनाव लड़ेगी। एनडीए सरकार में सहयोगी आरपीआइ के अध्यक्ष ने कहा कि सभी जगह भारतीय जनता पार्टी से सीटों को लेकर बात चल रही है। जहां भी सीटों पर समझौता नहीं हो पाएगा, वहां हम एनडीए को समर्थन देंगे। उनका कहना था कि चार राज्यों में भाजपा की जीत लगभग तय है, केरल में भी भाजपा जीत सकती है।

आरपीआइ में आएं तो मायावती को बना दूं अध्यक्ष: आठवले ने उत्तर प्रदेश में भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर की सक्रियता के सवाल पर कहा कि वह कोई खास प्रभाव डालने वाले नहीं हैं। वह चाहें तो आरपीआइ में आ जाएं। साथ ही बसपा प्रमुख मायावती भी अगर आरपीआइ में आ जाएं तो उन्हेंं राष्ट्रीय अध्यक्ष बना देंगे। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी मिलने जा रहे हैं। भाजपा यहां विधानसभा चुनाव में सात से आठ सीटें देती है तो भाजपा और आरपीआइ, दोनों को लाभ होगा।

मंत्री हूं, नहीं उठा सकता महंगाई का मुद्दा: बढ़ती महंगाई के सवाल पर रामदास आठवले ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकारों को कुछ टैक्स कम करने चाहिए। सदन में महंगाई का मुद्दा उठाने के सवाल पर बोले कि मंत्री हूं, इसलिए महंगाई का मुद्दा नहीं उठा सकता। हमारी और भाजपा की आवाज तो एक ही है। हां, जहां पर कांग्रेस की सरकार है, वहां हम मुद्दा उठाएंगे।

यह भी पढे >>आजाद, हुड्डा, सिब्‍बल और तिवारी जम्‍मू में सब एक साथ, कर सकते हैं बड़ा एलान (24city.news)


पत्रकार अप्लाई करे Apply