यूपी: पूर्व प्रधान की गोलियों से भूनकर हत्या, रिवॉल्वर छीनकर फरार हुए हमलावर, गांव में दहशत

 

बागपत जनपद के धनौरा सिल्वरनगर गांव में पुरानी रंजिश के चलते बाइक सवार तीन हमलावरों ने पूर्व प्रधान ऋषिपाल राणा (55) की गोलियां बरसाकर हत्या कर दी। उसके सिर, पीठ और छाती में छह गोलियां मारी गई। 10 राउंड फायरिंग से गांव में दहशत फैल गई। हमलावर फायरिंग करते हुए फरार हो गए। वे पूर्व प्रधान की लाइसेंस रिवाल्वर भी ले गए।

धनौरा सिल्वरनगर गांव निवासी पूर्व प्रधान ऋषिपाल राणा (55) पुत्र स्वर्गीय रामनिवास राणा की गांव में पुरानी रंजिश चली आ रही थी। मंगलवार शाम छह बजे के लगभग पूर्व प्रधान बाइक पर गांव में हेयर सैलून की दुकान पर जा रहा था। घर से करीब 500 मीटर की दूरी पर पीछे दो बाइकों पर सवार होकर आए तीन बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी। सिर, पीठ और छाती पर छह गोलियां लगने से लहूलुहान होकर वह जमीन पर गिर गया और मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद हमलावर हथियार लहराते हुए भाग निकले। उनमें एक हमलावर हेलमेट लगाए हुए था। पूर्व प्रधान के पास लाइसेंसी रिवॉल्वर भी थी। उसे भी हमलावर ले गए। वारदात से ग्रामीणों में दहशत फैल गई और गलियों में सन्नाटा पसर गया।

एसपी शैलेश कुमार पांडेय, एएसपी अनिल कुमार सिंह, सीओ बड़ौत रामानंद कुशवाहा, थानाध्यक्ष बिनौली रवेंद्र यादव पुलिस के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। एसपी ने ग्रामीणों से वारदात की जानकारी ली। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। घटनास्थल से चार खोखे बरामद हुए हैं। देर रात तक मृतक पक्ष की तरफ से कोई तहरीर नहीं दी गई है। एसपी ने बताया कि हमलावरों का पता लगाया जा रहा है। अभी तहरीर नहीं मिली है। गांव की पुरानी रंजिश में हत्या की आशंका है, इस बिंदु पर जांच की जा रही है।

एक हत्या में गवाह, दूसरे में आरोपी
धनौरा सिल्वरनगर में पुरानी रंजिश के चलते कई लोगों की हत्या हो चुकी है। मृतक पूर्व प्रधान सुमित हत्याकांड़ में गवाह था, जबकि गांव के ही गौरव की हत्या में उसे आरोपी बनाया गया था। एसपी शैलेश कुमार पांडेय का कहना है कि जांच की जा रही है।

 
 

Related posts

Top