Shobit University Gangoh
 
 

पाक ने इस्लामी देशों में बढ़ाया कोरोना संक्रमण, लाहौर में धार्मिक जलसे से कई देशों में पहुंचे संक्रमित लोग

पाक ने इस्लामी देशों में बढ़ाया कोरोना संक्रमण, लाहौर में धार्मिक जलसे से कई देशों में पहुंचे संक्रमित लोग

पाकिस्तान में कोरोना वायरस की हालत इटली से भी अधिक खतरनाक है जबकि उसके पास स्वास्थ्य सेवा के सेटअप के नाम पर कुछ भी नहीं है। इसके बावजूद उसने हाल ही में इस्लामी देशों से आए लाखों मुस्लिमों को 10 से 15 मार्च तक लाहौर में एक धार्मिक आयोजन में जुटने की अनुमति दे दी। इससे लाखों लोगों का जीवन खतरे में पड़ गया है।

कोरोना वायरस के चलते मौजूदा दौर में ईरान और सऊदी अरब जैसे देश भी उनके यहां धार्मिक आयोजनों पर प्रतिबंध लगा रहे हैं लेकिन पाकिस्तान ने इस पर सख्ती के साथ पहले से कोई कदम ही नहीं उठाए। इसके चलते तबलीगी जमात तबलीगी इज्तेमा द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम के लिए उसने अनुमति भी दे दी। इसके बाद कई इस्लामी देशों में कोरोना संक्रमण के जो मामले मिल रहे हैं उनमें जो लोग पाए गए हैं वे पाकिस्तान में इस जलसे का हिस्सा रह चुके हैं।

गाजा पट्टी में कोरोना के दो मामले दर्ज हुए जहां दोनों फलस्तीनी नागरिक हाल ही में इस कार्यक्रम में भाग लेकर लौटे थे। पत्रकार कुंवर खुलदून शाहिद ने लिखा है कि पाकिस्तान दुनिया में कोविड-19 का सबसे बड़ा प्रसारक देश बन सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि लाहौर में लाखों लोग एक साथ जुट चुके हैं। जबकि ईरान और सऊदी अरब ने जुमे की नमाज तक रोक दी है।

पाक मौलवियों की निष्क्रियता

12 मार्च को आयोजकों ने करीब 2.50 लाख लोगों को एक साथ जुटने की अनुमति देने से इनकार करने की अपील की थी लेकिन लोग इस धार्मिक आयोजन की तैयारी में शिविरों में जुट गए। सबसे बड़ी बात यह रही कि यह आयोजन उस वक्त हुआ जब लाहौर में बारिश हो रही थी। इस कारण इसके प्रसार की गुंजाइश और अधिक है। यह आयोजन पाक मौलवियों की निष्क्रियता का एक उदाहरण था।

इन देशों ने लगाया प्रतिबंध

कोरोना वायरस के चलते ईरान ने अपने देश में पवित्र शिया स्थलों को बंद कर दिया है जबकि सऊदी अरब ने मस्जिदों में नमाज पर प्रतिबंध लगा दिया है। इनके अलावा तुर्की, यूएई, लेबनान, इराक और जॉर्डन समेत कई मुस्लिम देशों ने मस्जिदों को बंद कर दिया है। जबकि पाकिस्तान ने 20 मार्च को देश भर में जुमे की नमाज की अनुमति दी थी।

पाक में अब तक कुल 1,408 मामले

पाकिस्तान में कोरोना वायरस के संक्रमण के शनिवार तक 1,408 मामले पाए गए हैं। इनमें से 11 लोगों की मौत हो चुकी है। पाकिस्तानी स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, कुल संक्रमितों में से सात की हालत काफी गंभीर है। बताया गया कि अधिकांश संक्रमित लोग ईरान से आए थे जहां अब तक कोरोना से 2,300 से अधिक मौतें हो चुकी हैं।

मस्जिदों में जमा हो रही भीड़, प्रशासन बेबस

इमरान सरकार की कई कोशिशों के बावजूद पाकिस्तान के हर प्रांत में मस्जिदों के भीतर काफी भीड़ जमा हो रही है। शुक्रवार को कराची में 400 लोग मस्जिद में नमाज अदा करने पहुंचे। जब पुलिस ने मस्जिद प्रशासन को गेट बंद करने को बोला तो लोग भड़क गए। इन नमाजियों के सामने प्रशासन लाचार नजर आ रहा है।

पत्रकार अप्लाई करे Apply