अध्याना में भाजपा विधायक की तिरंगा यात्रा विवादों में!

अध्याना में भाजपा विधायक की तिरंगा यात्रा विवादों में!
बैठक करते गाँव के युवा
  • भाजपा नेताओ के प्रवेश निषेध का लगाया गया बैनेर

नकुड़ [दिग्विजय त्यागी]: अध्याना गाँव में युवाओ ने भाजपा नेताओ का प्रवेश निषेध का पोस्टर लगा दिया है। बोर्ड लग जाने से शनिवार को विधायक व भाजपा नेताओ के प्रस्तावित कार्यक्रम का विरोध होने की संभावना बढ़ गई है।

अध्याना गाँव क्षेत्र में त्यागी बाहुल्य गाँव है। नोएडा के श्रीकांत त्यागी प्रकरण के बाद गाँव के युवाओं में भाजपा के प्रति नाराजगी का माहोल है। गुरुवार को युवाओं ने गाँव के प्रवेश मार्ग पर भाजपा नेताओ का प्रवेश निषध का बैनेर लगा दिया था। उधर ग्राम प्रधान विनोद त्यागी द्वारा नकुड़ के भाजपा विधायक की यात्रा का कार्यक्रम पहले से तय कराया हुआ था।

विधायक के प्रस्तावित कार्यक्रम व युवाओं द्वारा लगाए भाजपा नेताओं के ‘प्रवेश निषेध’ बैनेर के बाद युवाओं व प्रधान पक्ष में टकराव की स्तिथि बन गई। शुक्रवार दोपहर गाँव के युवाओं ने एक बैठक का आयोजन किया जिसमें भाजपा विधायक के कार्यक्रम को स्थगित करने की बात कही गई। हालांकि बैठक में ग्राम प्रधान विनोद त्यागी भी संमलित हुए, उन्होंने कार्यक्रम को स्थगित नहीं करने की बात कही। दोनों पक्ष अपनी-अपनी बातों पर अड़े रहे और बैठक बिना किसी परिणाम के समाप्त हो गई।

शाम को गाँव के युवाओं ने दोबारा बैठक का आयोजन किया व भाजपा नेताओं के गाँव में प्रवेश का विरोध करने की बात तय की।

दोनों पक्षों की हटधर्मिता से टकराव की आशंका
प्रधान पक्ष व गाँव के युवाओं की अपने-अपने स्टैन्ड पर अडिग रहने के कारण भाजपा विधायक के प्रस्तावित कार्यक्रम के विरोध की आशंका बढ़ गई है। प्रधान पक्ष भाजपा विधायक को बुलाने पर अडिग है तो वहीं गाँव के युवा विरोध करने पर अड़े हुए है।

विरोध तिरंगा यात्रा का नहीं भाजपा नेताओ का है
गाँव के युवाओं ने कहा कि उनका विरोध तिरंगा यात्रा को लेकर नहीं है वो भाजपा नेताओ का विरोध कर रहे है। कहा कि वो स्वयं गाँव में तिरंगा यात्रा का आयोजन करेंगे जिसमें गाँव के सभी युवा उत्साहपूर्ण भाग लेंगे। लेकिन भाजपा नेताओ का गाँव में प्रवेश निषेध है।

तय कार्यक्रम के अनुसार होगी तिरंगा यात्रा: राधेश्याम शर्मा
भाजपा जिला महामंत्री राधेश्याम शर्मा ने कहा कि विधायक की तिरंगा यात्रा अपने तय कार्यक्रम और तय मार्ग के अनुसार ही होगी। यात्रा नकुड़ के निरीक्षण भवन से प्रारंभ होकर गाँव अध्याना में समाप्त होगी। यदि गाँव के युवा भाजपा नेताओ का विरोध करते है तो उन्हे विरोध करने का पूरा अधिकार है। विरोध का कारण श्रीकांत प्रकरण है तो इसमें पार्टी की स्थानीय इकाई का कोई दोष नहीं।

 

 


पत्रकार अप्लाई करे Apply