नेपाल भाग गए कमलेश तिवारी के हत्‍यारे

 
  • कमलेश तिवारी की निर्मम हत्‍या की जांच कर रहे जांचकर्ताओं ने संदेह जताया कि हत्‍याकांड में शामिल सूरत के दो हत्‍यारे नेपाल भाग गए
  • सूरत के लिंबायत इलाके के रहने वाले मोइन खान पठान और अशफाक खान पठान ने कमलेश तिवारी की गला रेतकर हत्‍या की थी
  • लखनऊ पुलिस ने खालसा होटल के कमरे से भगवा कपड़ा बरामद किया, यही कपड़ा पहनकर ये आरोपी कमलेश तिवारी के घर गए थे

सूरत/लखनऊ: हिंदू समाज पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष कमलेश तिवारी की निर्मम हत्‍या की जांच कर रहे जांचकर्ताओं ने संदेह जताया है कि इस हत्‍याकांड में शामिल सूरत के दो हत्‍यारे नेपाल भाग गए हैं। सूरत के लिंबायत इलाके के रहने वाले फरीद उर्फ मोइन खान पठान और अशफाक खान पठान ने लखनऊ में कमलेश तिवारी की गला रेतकर हत्‍या कर दी थी। ये लोग सूरत से खरीदे गए मिठाई के डिब्‍बे में पिस्‍तौल और चाकू छिपाकर ले गए थे।

गुजरात एटीएस की प्रारंभिक जांच में पता चला है कि मोइन और अशफाक ट्रेन से कानपुर गए थे और वहां से फिर दोनों आरोपी 16 अक्‍टूबर को टैक्‍सी लेकर लखनऊ गए। लखनऊ में वे खालसा इन होटल में रुके। लखनऊ पुलिस ने इसी होटल के कमरे से भगवा कपड़ा बरामद किया है। यही कपड़ा पहनकर हत्‍यारे कमलेश तिवारी के घर गए थे।

एटीएस के एक अधिकारी ने कहा, ‘गूगल के जरिए उन्‍हें कमलेश तिवारी का घर मिल गया। हत्‍यारों ने 16 अक्‍टूबर की आधी रात को कमलेश तिवारी को फोन किया और कहा कि वे उनसे दिवाली का आशीर्वाद लेना चाहते हैं और इसके लिए वे सूरत की प्रसिद्ध मिठाई लेकर आए हैं।’ अगले दिन ये लोग तिवारी के घर पहुंच गए और गला रेतकर हत्‍या कर दी। हत्‍यारों ने कमलेश तिवारी को गोली भी मारी।

गुजरात एटीएस ने मामले को सुलझाते हुए मोइन के भाई राशिद और दो अन्‍य लोगों मौलाना मोहसिन शेख ओर फैजान मेंबर को शनिवार की अल सुबह सूरत से अरेस्‍ट कर लिया। यही नहीं इन तीनों के परिवार वालों को एटीएस ने बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया है। अब तक इस मामले में कुल 6 लोगों को अरेस्‍ट किया गया है। इस बात का पूरा संदेह है कि यह हत्‍या ईशनिंदा से जुड़ी हुई है।

जांच में यह भी पता चला है कि फरीद और उसका मित्र अशफाक 16 अक्‍टूबर को यह कहकर अपने घर से निकले थे कि वे पंजाब जा रहे हैं। इस हत्‍याकांड में दोनों का नाम सामने आने के बाद पूरा परिवार सदमे में है। परिवार का कहना है कि दोनों लड़के निर्दोष हैं और सूरत में एक साधारण सी जिंदगी जी रहे थे। यही नहीं राशिद के तीसरे भाई सईद की अगले महीने शादी है। पूरा परिवार शादी की तैयारियों में व्‍यस्‍त था। परिवार ने बताया कि मोइन अपनी पत्‍नी से अलग रह रहा था।

कमलेश तिवारी मर्डर केस: होटल से बैग और खून लगा भगवा कुर्ता बरामद

भगवा कपड़े पहनकर आए थे हत्‍यारे

भगवा कपड़े पहनकर आए थे हत्‍यारे

 
 
Top