सीरीज सील करने उतरेगा भारत, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरा टेस्ट आज से शुरू

 
  • दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मुकाबले में आज उतरेगी भारतीय टीम
  • मेहमान टीम शर्मनाक हार को भुलाकर अपनी उम्मीदें कायम रखना चाहेगी
  • टीम इंडिया ने विशाखापट्टनम में सीरीज का पहला टेस्ट 203 रन से जीता था

विजय रथ पर सवार विराट एंड कंपनी गुरुवार को जब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मुकाबले में उतरेगी तो उसका लक्ष्य जीत के साथ सीरीज भी सील करने का होगा। वहीं मेहमान टीम शर्मनाक हार को भुलाकर अपनी उम्मीदें कायम रखना चाहेगी

टीम इंडिया ने विशाखापट्टनम में पहला टेस्ट 203 रन से जीता था। अब टीम पुणे में ही सीरीज जीतने के लिए कोई कोताही नहीं बरतना चाहेगी। लगभग परफेक्ट प्रदर्शन में सुधार की गुंजाइश नहीं रहती लेकिन कोहली हर बार एक नई चुनौती तलाश लेते हैं । भले ही सामना ऐसी टीम से है जो लगातार पांच दिन चुनौती देने की स्थिति में नहीं है ।

रोहित शर्मा ने लगातार दो शतक जड़कर टेस्ट क्रिकेट में बेहतरीन ओपनर के रूप में उभरने के संकते दिए हैं। वहीं मयंक अग्रवाल भी हर मौके को भुनाने के फन में माहिर हैं । उन्होंने पहले ही घरेलू मैच में अपना पहला दोहरा शतक जड़ा जिससे कम से कम घरेलू हालात में तो भारत की शीर्षक्रम की समस्या सुलझाती नजर आ रही है। भारत को इसके बाद बांग्लादेश से भी दो टेस्ट खेलने हैं । रोहित और मयंक के अलावा भारत के पास कोहली, चेतेश्वतर पुजारा, अजिंक्य रहाणे और हनुमा विहारी जैसे बल्लेबाज भी हैं।

पसीने छुड़ा रहे अश्विन-जडेजा

अश्विन और जडेजा

अश्विन और जडेजा – फोटो : सोशल मीडिया
पिछले मैच में आठ विकेट लेने वाले अश्विन और हरफनमौला प्रदर्शन में माहिर जडेजा से पार पाना दक्षिण अफ्रीका के लिए टेढी खीर साबित हो रहा है। इसके अलावा धीमे विकेटों पर नई और पुरानी गेंद से मोहम्मद शमी का शानदार प्रदर्शन भी भारत के पक्ष में रहा है। इशांत शर्मा ने भी उनका बखूबी साथ दिया। दोनों का तालमेल ऐसा था कि जसप्रीत बुमराह की कमी महसूस नहीं हुई। फिटनेस समस्या नहीं होने पर भारतीय अंतिम एकादश में बदलाव की उम्मीद कम है।

मुथुस्वामी व पीट

दक्षिण अफ्रीका जरूर सेनुरान मुथुस्वामी और डेन पीट में से एक को बाहर कर सकता है। दोनों की रोहित ने जमकर धुनाई करके रिकॉर्ड 13 छक्के जड़े थे। मुथुस्वामी के बाहर होने पर जुबैर हमजा को जगह मिल सकती है। वहीं पीट बाहर होते हैं तो लुंगी नगिदी टीम में शामिल हो सकते हैं।

खराब पिच के दाग धोने की चुनौती : दो साल पहले (2017) पुणे स्थित महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में पहली बार 23 फरवरी को यहां पहला टेस्ट मैच खेला गया। भारत का मुकाबला ऑस्ट्रेलिया से था। मैच महज तीन दिन चला और भारत को 333 रन से मात मिली। स्पिनरों की मददगार पिच पर नाथन लियोन ने भारत की पहली पारी 105 तो दूसरी 107 रन पर समेट दी थी। मैच के बाद पुणे की पिच को खराब रेटिंग मिली थी। इस बार यह दाग धोने की चुनौती आयोजकों के पास है। उस तरह की पिच मिलने की संभावना हालांकि इस बार नहीं है। क्यूरेटर पांडुरंग सालगांकर यदि उससे मिलती जुलती पिच बनाते भी हैं तो भारत के पास आर अश्विन और जडेजा हैं।

अश्विन के पास वास और लिली पीछे छोड़ने का मौका

आर अश्विन

आर अश्विन – फोटो : social Media
ऑफ स्पिनर आर अश्विन के पास श्रीलंका के पूर्व गेंदबाज चामिंडा वास और ऑस्ट्रेलिया के डेनिस लिली को पीछे छोड़ने का मौका होगा। अश्विन ने अब तक 66 टेस्ट में 350 विकेट लिए हैं अगर वह पांच और विकेट झटके लेते हैं तो इन दोनों गेंदबाजों को पीछे छोड़ देंगे। वास के 111 मैचों और लिली के 70 मैचों में एक बराबर 355 विकेट हैं।

आमने-सामने
कुल मैच : 37
भारत जीता : 12
दक्षिण अफ्रीका जीता : 15
ड्रॉ : 10
-17 मैच दोनों टीमों ने भारतीय सरजमीं पर खेले हैं जिसमें से टीम इंडिया ने नौ और दक्षिण अफ्रीका ने पांच जीते हैं, जबकि तीन ड्रॉ रहे हैं।
– 01 एकमात्र टेस्ट मैच खेला है टीम इंडिया ने पुणे में। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए मैच में उसे 333 रन से करारी शिकस्त मिली थी। पिछले दो साल से इस स्टेडियम में कोई टेस्ट नहीं खेला गया है।
-12 विकेट झटके थे अश्विन (7) और जडेजा (5) की स्पिन जोड़ी ने दो साल पहले यहां खेले गए मैच में
-01 मात्र टेस्ट शतक इस मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ ने जड़ा है। उन्होंने 2017 में दूसरी पारी में 109 रन बनाए थे। भारत की ओर से लोकेश राहुल ने दोनों पारियों में कुल 74 रन बनाए हैं।

आगे पढ़ें

 
 

Related posts

Top