सपा विधायक के खिलाफ दर्ज रिपोर्ट वापस नहीं ली तो दुनिया से उठा देंगे

 

सपा विधायक नाहिद हसन समेत आठ लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराने वाले मोहम्मद अली को जान से मारने की धमकी दी गई है। इस मामले में एसपी के आदेश पर छह लोगों के खिलाफ पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

मोहम्मद अली कस्बा कैराना के मोहल्ला खैल कला के रहने वाले हैं और उनके घर पर 11 अक्तूबर की रात यह चिट्ठी डाली गई। इसकी रिपोर्ट मंगलवार देर उन्होंने थाना कैराना पर दर्ज कराई। चिट्ठी में लिखा गया है कि सपा विधायक के विरुद्ध धोखाधड़ी की जो रिपोर्ट दर्ज करा रखी है उसे वापस ले लो, वरना तीन दिन के अंदर उसे दुनिया से उठा दिया जाएगा। उसका साथ देने वाले शराफत सुलेमान का भी अंजाम बुरा होगा, जिसके भाई को पहले ही मार चुके हैं।

मोहम्मद अली ने मंगलवार को तहसील में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में जाकर डीएम और एसपी को चिट्ठी दिखाकर कार्रवाई की मांग की थी। इसके बाद एसपी के निर्देश पर रिपोर्ट दर्ज की गई।

कोतवाली प्रभारी ने बताया कि मोहम्मद अली की तहरीर पर आरोपी नौशाद, कयूम, इरफान उर्फ फाना निवासीगण रामड़ा, हाजी इरशाद कपड़े वाले निवासी खेड़ा नगला राई, अरशद और शहजाद काला निवासी कैराना के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कर ली है। चिट्ठी पर इन्हीं लोगों के नाम लिखे हैं। इनमें चार आरोपी नौशाद, कयूम, इरफान उर्फ फाना निवासी रामड़ा और हाजी इरशाद कपड़े वाले जनवरी 2018 में दर्ज धोखाधड़ी के मुकदमे में भी वांछित हैं।

ये था मामला
कोतवाल के मुताबिक जनवरी 2018 में मोहम्मद अली ने सपा विधायक नाहिद हसन और उनकी मां एवं पूर्व सांसद तबस्सुम बेगम सहित छह अन्य आरोपियों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई थी। बताया था कि आरोपियों ने 87 लाख 80 हजार रुपये लेने के बाद भी जमीन का बैनामा किसी अन्य के नाम करा दिया। इस मामले में सपा विधायक नाहिद हसन के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी है।

 
 

Related posts

Top