नकुड क्षेत्र मे नही रूक रहा बुखार का कहर, अघ्याना में चैबिश घंटे में बुखार से दो मौत

 

नकुड ।क्षेत्र को बुखार के कहर से निजात नंही मिल रही है। स्वास्थ्य विभाग के तमाम दावों के बावजूद बुखार से मौतो का सिलसिला नंही रूक रहा। समीवर्ती ग्राम अघ्याना मे चैबिश घंटो मे दो हुई दो मौतो ने विभाग के दावों की हवा निकाल दी। इस गांव में दो दिनो में चार लोग परलोक सिधार गये। जिससे पूरा गांव सकते मे है।
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी बुखार की रोकथाम के तमाम बडे बडे दावे कर रहे है। पंरतु ग्रांउड रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग की पोल खोल रही है। समीवर्ती ग्राम अघ्याना में शुक्रवार को तीस वर्षीय युवक देवेदं्र की बुखार से मौत हो गयी। देवंेंद्र को कई दिनो से बुखार था ।पंरजन स्थानीय चिकित्सकों से उसका उपचार करा रहे थे। पंरतु शुक्रवार को उसकी स्थिति बिगड गयी। परिजन उसे जिला अस्पताल ले जाने की तैयारी कर ही रहे थे परंतु रास्ते मे ही उसकी मृत्यु हो गयी। जिससे परिजनों मेें कोहराम मच गया।
उधर गुरूवार को अघ्याना के अनिल की भी बुखार से मृत्यु हो गयी। वह भी कई दिनों से बुखार से पिडित था। परिजन स्थानीय चिकित्सको से उसका इलाज करा रहे थे। पंरतु गुरूवार को उसने दम तोड दिया। चैबिश घंटे में गांव मे दो लोगो की मृत्यु से पूरा गांव सकते मे है। इसके अलावा इसी दौरान गांव में एक बुजुर्ग महिला व एक वृद्ध की भी मृत्यु हो गयी। दोनो ही लंबे समय से बिमार थे।
गौरतलब है कि गांव में पहले भी बुखार से कई लोगो की बुखार से दम तोड चुके है । परतु अभी तक स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियो ने इस गाव की सुध तक नंही ली। गांव में मच्छर रोधी फोगिंग या दवा का छिडकाव नंही कराने से आमजन में रोष है। भाजपा के राजेश त्यागी ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को तुरंत गांव में बुखार की रोकथाम के लिये कदम उठाने चाहिए।

 
 

Related posts

Top