अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मण्डल द्वारा सेवा संकल्प दिवस पर खाद्य किट का किया गया वितरण

अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मण्डल द्वारा सेवा संकल्प दिवस पर खाद्य किट का किया गया वितरण
  • सहारनपुर में सेवा संकल्प दिवस पर व्यापारियों ने वितरित की खाद्य किट।

सहारनपुर [24CN] । अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मण्डल सहारनपुर द्वारा संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष संदीप बसंल के जन्मदिन को देश के 13 राज्यों और प्रदेश के समस्त जिलों में ‘सेवा संकल्प दिवस के रूप में मनाया गया। इस कड़ी में कोरोना काल में जिला कार्यालय पर खाद्य किट का वितरण वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष विमल विरमानी द्वारा किया गया। खाद्य किट वितरण से पूर्व अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मण्डल के प्रमुख पदाधिकारियो की बैठक में कोरोना नियमों का पालन करते हुए प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष विमल विरमानी ने कहा कि वर्ष 2020 की प्रथम कोरोना लहर तथा वर्ष 2021 से अप्रैल-मई की कोरोना की दूसरी लहर ने सबसे अधिक प्रभावित कोरोना योद्धा के रूप में कार्य करने वाला व्यापारी वर्ग हुआ है।

विरमानी ने कहा कि कोरोना की वर्ष 2020 में प्रथम लहर में व्यापारी वर्ग द्वारा सेवाभाव से पूरे देश, प्रदेश एवं जिलों-नगर आदि में सेवा भाव से कार्य किया गया था परन्तु वर्ष 2020-2021 में जिला प्रशासन द्वारा कोरोना योद्धा के रूप में कार्य करने वाले व्यापारी वर्ग का सबसे अधिक उत्पीडऩ किया गया। आपदा अधिनियम का दुरूपयोग सबसे अधिक व्यापारी वर्ग पर किया गया और इस पर जनप्रतिनिधियों की चुप्पी अत्यंत कष्टकारी रही।

उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग द्वारा अपनी दुकानों में व्यापार करते समय बगैर किसी सुरक्षा कवच मास्क को छोडक़र आमजन के लिए सभी प्रकार की वस्तुओं का वितरण किया गया, परन्तु व्यापारी को जमाखोर व मिलावटखोर की संज्ञा दी गयी। जबकि प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा निजी प्राईवेट हॉस्पिटल तथा सरकारी अस्पताल की कुव्यवस्था पर आंखें बंद रखी गयी। विरमानी ने आगे कहा कि सहारनपुर में आक्सीजन की कमी पर किस प्रशासनिक अधिकारी की जिम्मेदारी बनती है, यह जांच का विषय है। हमारा संगठन इस पर शीघ्र ही मुख्यमंत्री को अवगत करायेगा तथा चंद परिक्रमा करने वाले व्यापारी नेताओं की भी पोल आम व्यापारी के समक्ष लायेगा।जिला वरिष्ठ महामंत्री अनित गर्ग तथा महामंत्री हर्ष डाबर ने कहा कि आज लगभग सभी विभाग भ्रष्टाचार के केन्द्र बन चुके हैं, जमीन की खरीद-बिक्री पर खुलेआम रजिस्ट्रार कार्यालय द्वारा सुविधा शुल्क लिया जाता है और न देने वालों को कम स्टाम्प का नोटिस दे दिया जाता है तथा प्रशासनिक अधिकारी जानबूझकर अपनी आंख, कान बंद रखते हैं।

महानगर अध्यक्ष स.गुरमेहर सिंह तथा महानगर वरिष्ठ महामंत्री रजत मित्तल ने कहा कि प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा कोरोना नियमों का पालन न करने पर व्यापारी वर्ग की गलती न होने के बावजूद दुकान सील करना ग्राहक द्वारा मास्क न पहनने को दुकान मालिक को ही जिम्मेदार ठहरा देना और जुर्माना करना अधिकारियों की अंग्रेजी मानसिकता को बताते हैं, जबकि यही अधिकारी किसानों के आंदोलन, पंचायत चुनाव में कोरोना नियमों का पालन न करने पर चुप्पी साध जाते हैं। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मण्डल द्वारा सेवा संकल्प दिवस पर पचास खाद्य किट में सभी आवश्यक वस्तुएं आटा, चावल, दाल, मसाले, चीनी, तेल आदि का वितरण अपने समस्त पदाधिकारियों के साथ किया। खाद्य वितरण और बैठक में जिला प्रैस प्रवक्ता विनीत विरमानी, स. तरनजीत सिंह बग्गा, शान्तनु ठकराल, स. गुरदीप सिंह मोंटी, नरेन्द्र सिंह, हर्षित वर्मा, अश्वनी अरोडा, सुबोध भाटिया, तरूण गोयल, नरेन्द्र गर्ग, मनोज गर्ग, आशीष बासन, शंशाक भाटिया, जगदीश कालरा आदि उपस्थित रहे।


पत्रकार अप्लाई करे Apply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *