ब्लड शुगर टेस्ट स्ट्रिप सस्ते में प्राप्त करे
Dr. Morepen BG-03 Blood Glucose Test Strips, 50 Strips (Black/White)

आगरा, चित्रकूट व प्रतापगढ़ में बालिकाओं के साथ घटनाओं पर सीएम योगी सख्त, तत्काल कार्रवाई का निर्देश

 

लखनऊ । महिलाओं और बालिकाओं के साथ होने वाले अपराधों को लेकर भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ‘जीरो टॉलरेंस’ की नीति के तहत कार्य कर रहे हैं। इसी क्रम में उन्होंने आगरा, चित्रकूट और प्रतापगढ़ में बालिकाओं के साथ हुई घटनाओं में जिला प्रशासन को त्वरित प्रभावी और कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। सीएम योगी ने निर्देश दिया है कि वरिष्ठ अधिकारी तत्काल मौका मुआयना करें। जांच समय से पूरी करें और पीड़ित परिवारों की सुरक्षा सुनिश्चित करें।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को ट्वीट कर आगरा, चित्रकूट और प्रतापगढ़ में बालिकाओं के साथ हुई घटनाओं में सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि महिला संबंधी अपराधों को फास्ट ट्रैक कोर्ट में और नाबालिग बच्चों के प्रकरणों को पॉक्सो कोर्ट में अभियोजित कराया जाएगा। अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि पीड़ित परिवार को तत्काल अनुमन्य सहायता उपलब्ध कराई जाए। अभियोजन की पैरवी प्रभावी हो, ताकि दोषियों को शीघ्र दंड मिले।

बता दें कि महिलाओं और बच्चियों की सुरक्षा व सम्मान के मुद्दे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेहद संजीदा हैं। सीएम योगी ने महिलाओं व बालिकाओं की सुरक्षा के दृष्टिगत शारदीय नवरात्र से बासंतिक नवरात्र तक चलाए जाने वाले ‘मिशन शक्ति’ अभियान की अब प्रतिदिन समीक्षा किए जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि इस अभियान का विस्तार वार्ड व ग्राम पंचायत स्तर तक किया जाए। साथ ही अपर मुख्य सचिव गृह व डीजीपी इसकी मानीटरिंग करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिला स्तर पर प्रतिदिन समीक्षा किए जाने के अलावा वरिष्ठ अधिकारियों के स्तर पर साप्ताहिक, पाक्षिक व मासिक समीक्षा की जााए। उन्होंने सभी थानों में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना तथा एंटी रोमियो स्क्वॉड की सक्रियता को और बढ़ाने के भी कड़े निर्देश दिए हैं।

बता दें कि प्रतापगढ़ जिले में छेड़खानी से तंग छात्रा ने आत्‍महत्‍या कर लिया था। इस मामले में मंगलवार की रात में आइजी भी बाघराय थाना के उस गांव में पहुंचे। पुलिस ने घटना में शामिल गुड्डू सिंह को देर रात हिरासत में ले लिया है। चित्रकूट में सामूहिक दुष्कर्म से आहत किशोरी ने मंगलवार को खुदकुशी कर ली। किशोरी की मां का आरोप है कि पांच दिन पहले गांव के तीन युवकों ने घर से अगवा करके जंगल ले जाकर बेटी से दुष्कर्म किया था।  पुलिस ने तीनों आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। रात में ही आइजी और कमिश्न ने दौरा करके हालात का जायजा लिया और तत्काल प्रभाव से कोतवाली प्रभारी और चौकी प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है। वहीं, आगरा में 16 वर्षीय किशोरी दुष्कर्म का आरोप लगाया है। स्वजनों ने आरोपित की पकड़कर पिटाई भी की है। आरोपित के स्वजन पीड़ित परिवार पर थाने में समझौते को दबाव बना रहे हैं। वे डेढ़ लाख रुपये लेकर समझौता करने की बात कह रहे हैं।

 
 

Related posts

Top