सहारनपुर बवाल: आंबेडकर की मूर्ति तोड़ने पर केस दर्ज, भीम आर्मी के राष्ट्रीय महासचिव को बनाया आरोपी

 

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जनपद में मंगलवार को आंबेडकर की प्रतिमा क्षतिग्रस्त होने के बाद हुए बवाल को लेकर पुलिस ने कार्रवाई की है। पुलिस ने 104 नामजद और 650 अज्ञात लोगों को आरोपी बनाया है। पुलिस ने इसमें तीन अलग- अलग रिपोर्ट दर्ज की हैं। एक रिपोर्ट में ग्राम घुन्ना में पथराव और फायरिंग के आरोप में भीम आर्मी के राष्ट्रीय महासचिव कमल सिंह वालिया समेत 77 लोग नामजद किए हैं।

वहीं दूसरी रिपोर्ट में नाजिरपुरा में जाम लगाकर हंगामा प्रदर्शन करने वालों में 27 नामजद और 250 अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई हैं। इसके अलावा तीसरी रिपोर्ट भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा क्षतिग्रस्त किए जाने की है। जिसमें अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई हैं।

ये था पूरा मामला
बेहट रोड पर ग्राम घुन्ना के पास शरारती तत्वों ने सोमवार की रात डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा क्षतिग्रस्त कर दी थी। वहीं मंगलवार सुबह इसका पता चलते ही गुस्साई भीड़ ने बेहट रोड पर ट्रैफिक जाम कर हंगामा प्रदर्शन शुरू कर दिया था। इस दौरान करीब चार घंटे तक यातायात बंद रहा। जाम में फंसे शाकंभरी देवी जा रहे श्रद्धालुओं ने विरोध किया तो डंडों से उन पर हमला कर दिया। इस बीच हुए पथराव में कई श्रद्धालु और बीच बचाव में आए सीओ के साथ ही कई पुलिसकर्मी भी घायल हो गए थे। इसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग करके प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा था।

वहीं मामले की जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी आलोक कुमार पांडेय और एसएसपी दिनेश कुमार भी मौके पर पहुंचे थे। उन्होंने घटना की जानकारी लेकर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए थे। एसएसपी दिनेश कुमार का कहना था कि प्रतिमा को खंडित करने वालों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

 
 

Related posts

Top