आर्मी चीफ बिपिन रावत का पाक को सख्त संदेश, पीओके पर कभी भी ऐक्शन के लिए तैयार

 

अमेठी: जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को पिछले महीने खत्म किए जाने के बाद से पाकिस्तान द्वारा भारत के खिलाफ चलाए जा रहे दुष्प्रचार और उकसावे वाले बयानों के बीच सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने बड़ा बयान दिया है। पाकिस्तान के अवैध कब्जे वाले जम्मू-कश्मीर को लेकर सेनाध्यक्ष रावत ने कहा है कि आर्मी पीओके को लेकर किसी भी अभियान के लिए पूरी तरह तैयार है। उन्होंने कहा कि सरकार के निर्देश पर सेना किसी भी कार्रवाई के लिए पूरी तरह तैयार है।

पीएमओ में राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह के पीओके को लेकर दिए बयान के सवाल पर बिपिन रावत ने कहा कि इस पर फैसला सरकार को लेना है। उन्होंने कहा, ‘अन्य संस्थाएं तो जैसा सरकार कहेगी, वैसी तैयारियां करेंगी।’ सेना की तैयारी को लेकर पूछे जाने पर बिपिन रावत ने कहा कि सेना तो हमेशा किसी भी कार्रवाई के लिए तैयार ही रहती है।

जनरल रावत ने कहा कि पीओके को लेकर सरकार के बयान से खुशी हुई है। उन्होंने कहा कि इस पर फैसला सरकार को लेना है, लेकिन हम निर्देश के आधार पर तैयार हैं। इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी पीओके को लेकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान से अब कोई भी बातचीत पीओके को लेकर ही होगी। यही नहीं 6 अगस्त को होम मिनिस्टर अमित शाह ने भी संसद में 370 पर विपक्ष के सवालों का जवाब देते हुए संसद में कहा था कि हम जान दे देंगे, लेकिन पीओके लेकर रहेंगे।

सुरक्षा बलों को कुछ मौका दें कश्मीर के लोग: रावत
पीओके को लेकर सेना प्रमुख जनरल बिपिन सिंह रावत ने कहा, ‘सरकार को पाकिस्तान के अवैध कब्जे वाले कश्मीर (POK) को लेकर फैसला लेना है, सेना किसी भी स्थिति के लिए तैयार है।’ जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के फैसले का आर्मी चीफ ने स्वागत किया। उन्होंने कहा कि कश्मीर के लोग भी हमारे देश के ही हैं। वे हमारे ही लोग हैं। कश्मीर के लोगों को शांति बहाल करने के लिए सुरक्षा बलों को कुछ मौका देना चाहिए। उन्होंने 30 साल तक आतंकवाद झेला है, अब उन्हें कुछ वक्त शांति के लिए भी देना चाहिए।’

 

 
 
Top