ब्लड शुगर टेस्ट स्ट्रिप सस्ते में प्राप्त करे
Dr. Morepen BG-03 Blood Glucose Test Strips, 50 Strips (Black/White)

Acid Attack in UP: गोंडा में तीन दलित बेटियों पर सोते समय फेंका गया तेजाब, एक की हालत नाजुक

 

गोंडा। उत्तर प्रदेश में सीएम योगी आदित्यनाथ ने तमाम प्रयास के बाद भी महिला, बेटी तथा बच्चियों के खिलाफ अपराध रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। ताजा मामला गोंडा का है। जहां पर सोमवार रात सोते समय तीन दलित बेटियों पर तेजाब फेंका गया। तीनों झुलस गई हैं, इनमें एक गंभीर रूप से घायल है। एसिड फेंकने का कारण अज्ञात है।

गोंडा में यह मामला परसपुर क्षेत्र के पसका गांव का है। जहां के रामऔतार (बदला नाम) की तीन बेटियों पर सोते समय तेजाब फेंका गया है। इन तीनों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। इसके साथ ही पुलिस मामले की जांच कर रह रही है। गोंडा के परसपुर थाना क्षेत्र के पसका गांव के सदस्य क्षेत्र पंचायत (बीडीसी) अनुसूचित जाति रामऔतार (बदला नाम) की तीन बेटियों पर सोते समय तेजाब फेंका गया। इसमें बड़ी बेटी का चेहरा झुलस गया है। जबकि दो बेटियों का शरीर आशिंक रूप से जला है। तीनों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। जिस कमरे में बेटियां सो रही थीं। वहां से उनका टूटा हुआ मोबाइल फोन मिला है। इसके साथ ही तेजाब की बोतल भी घर के बाहर मिली है। पुलिस इसे कब्जे में लेकर जांच कर रह रही है।

एसपी शैलेश कुमार पांडेय ने सुबह जिला अस्पताल पहुंच कर पीड़ित पिता से जानकारी हासिल की। वहीं डीआइजी डॉ. राकेश सिंह, डीएम डॉ. नितिन बसंल व एसपी ने पीड़ित के घर पहुंचकर पूरे घटना की जानकारी ली। फोरेंसिक व डाग स्क्वायड की टीम ने घटना स्थल से नमूने एकत्र किए हैं। पीड़ित बेटियों के पिता ने अज्ञात के खिलाफ तहरीर दी है। इसके बाद पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

सोमवार की रात गुरई की 17 वर्षीय बेटी काजल(बदला नाम), 12 वर्षीय महिमा(बदला नाम) तथा आठ वर्षीय सोनम (बदला नाम)  घर की छत के दूसरी मंजिल पर सो रही थी। रामऔतार का कहना है कि वह अपनी पत्नी सुनीता के साथ घर में नीचे घर में सो रहा था। रात करीब ढाई बजे बेटियों का शोर सुनकर वह उठा तो बेटियां उस से लिपट कर रोने लगी। उन लोगों ने कहा कि बचा लीजिए। वह कुछ समझ पाता तब उसके सीने में कुछ जलने का एहसास हुआ। तभी बेटियों ने बताया कि उनके ऊपर किसी ने तेजाब फेंक दिया है। गुरई ने बताया वह आनन- फानन में बेटियों को निजी चिकित्सक के पास ले गया। वहां से चिकित्सक ने जवाब दे दिया।

वह एक निजी वाहन से तीनों बेटियों को जिला अस्पताल ले गया। तीनों का वहां इलाज चल रहा है। इसकी सूचना उसने पसका पुलिस चौकी को दी। चौकी प्रभारी उमेश वर्मा ने इस मामले की सूचना उच्च अधिकारियों को दिया। इस पर पुलिस अधीक्षक जिला अस्पताल पहुंचे।

23 अक्टूबर को काजल की होनी थी गोदभराई

रामऔतार ने बताया कि उसकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं है। इतना ही नहीं कोई जमीन विवाद भी नहीं है। उसकी बड़ी बेटी काजल की शादी लखनऊ में तय है। 23 अक्टूबर को उसकी गोदभराई के लिए जाना था। उसी की तैयारी में वह लगा था। काजल ने इस बार हाईस्कूल की परीक्षा दी थी। वहीं महिमा(बदला नाम) कक्षा सात तथा आठ वर्षीय सोनम कक्षा दो की छात्रा हैं।

एक 30 प्रतिशत तथा दो पांच से सात प्रतिशत झुलसीं

एसपी शैलेश कुमार पाण्डेय ने बताया कि मामले में किसी नजदीकी का हाथ होने की आशंका है। घटना रात ढाई बजे के करीब बताई जा रही है। शीघ्र ही मामले का राजफाश कर लिया जाएगा। एक बेटी 30 प्रतिशत व अन्य दो बेटियां पांच से सात प्रतिशत जली है। मामले की जांच की जा रही है। कई जगह पर तलाश जारी है। इसके साथ ही हाल के दिनों में जहां-जहां से तेजाब खरीदा गया है, वहां की भी पड़ताल हो रही है।

 
 

Related posts

Top