ब्लड शुगर टेस्ट स्ट्रिप सस्ते में प्राप्त करे
Dr. Morepen BG-03 Blood Glucose Test Strips, 50 Strips (Black/White)

वुहान की लैब से क्यों सबको दूर रखना चाहता है चीन? बोला- न दिया जाए राजनीतिक रंग

 

 

  • कोरोना के प्रसार पर शंघाई सहयोग संगठन के सदस्य देशों के विदेश मंत्रियों ने जाहिर की चिंता
  • कोरोना से निपटने के लिए सहयोग पर चर्चा के लिए भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर भी हुए शामिल
  • चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने कोरोना वायरस की उत्पत्ति स्थल की जांच को लेकर फिर से दी सफाई

बीजिंग
कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के खतरनाक प्रसार पर शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के सदस्य देशों के विदेश मंत्रियों ने गंभीर चिंता जाहिर की है। इसके साथ ही उन्होंने बुधवार को कहा कि कोविड-19 (Covid-19) के खिलाफ लड़ाई में संयुक्त राष्ट्र के तहत समन्वित और समावेशी बहुपक्षीय कोशिशें करने की जरूरत है। कोविड-19 से निपटने में सहयोग पर चर्चा के लिए भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) सहित आठ सदस्यीय एससीओ देशों के विदेश मंत्री बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए हुई बैठक में शामिल हुए।

बैठक के अंत में जारी एक संयुक्त बयान में कहा गया कि कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में मजबूत, समन्वित और समावेशी बहुपक्षीय कोशिशें करने की जरूरत है, जिनमें संयुक्त राष्ट्र व्यवस्था की केंद्रीय भूमिका हो। मंत्रियों ने कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) और अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठनों के साथ एससीओ की प्रभावी बातचीत पर जोर दिया। क्षेत्र में जैविक सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए मंत्रियों ने रूस में एससीओ के आगामी सम्मेलन में एससीओ सदस्य देशों की एक व्यापक कार्य योजना स्वीकार करने पर विचार किया।

वुहान प्रयोगशाला की जांच से क्यों बच रहा चीन?
चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने कोरोना वायरस की उत्पत्ति स्थल की जांच के लिए वुहान प्रयोगशाला का दौरा करने की अंतरराष्ट्रीय समुदाय को इजाजत देने के अमेरिकी दबाव के बीच कहा, ‘हम दुनिया भर के लोगों से इस विषय को राजनीतिक रंग देने की कोशिशों को खारिज करने की अपील करते हैं।’ हाल ही में WHO ने कहा है कि चीन के वुहान मार्केट की कोरोना वायरस फैलने में भूमिका रही है। उसने इस दिशा में और ज्यादा रीसर्च की जरूरत बताई है।

बंद कर दी गई थी वुहान की मार्केट
WHO के फूड सेफ्टी जूनॉटिक वायरस एक्सपर्ट डॉ. पीटर बेन ऐंबरेक ने कहा है, ‘मार्केट ने इस इवेंट में भूमिका निभाई है, यह साफ है लेकिन क्या भूमिका, यह हमें नहीं पता है। क्या वह वायरस का स्रोत था या यहां से बढ़ा या सिर्फ इत्तेफाक कि कुछ केस मार्केट के अंदर और आसपास पाए गए।’ चीन ने जनवरी में वायरस को फैलने से रोकने के लिए वुहान मार्केट को बंद कर दिया था।

Covid-19: PM नरेंद्र मोदी ने वुहान से लौटे MBBS छात्र से की बातचीत

Covid-19: PM नरेंद्र मोदी ने वुहान से लौटे MBBS छात्र से की बातचीतभारत में कोरोना वायरस संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निजामुर रहमान से फोन पर बात की। निज़ामुर रहमान चीन के वुहान से MBBS कर रहा है और कश्मीर से 60 अन्य छात्रों के साथ भारत वापस लौटा है। निज़ामुर रहमान कासकूट बनिहाल से है। PM मोदी के साथ अपनी बातचीत के दौरान रहमान ने चीन में अपने अनुभव को साझा किया और कहा कि भारत सही दिशा में प्रयास कर रहा है और चीन में फंसे भारतीयों को निकालने उसने प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया।

 

 
 

Related posts

Top