UP में कोरोना से बिगड़ रहे हालात, एक दिन में रिकॉर्ड 3765 मामले, 57 मौतें

 

लखनऊः उत्तर प्रदेश में लोगों की स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही कोरोना संक्रमण को पांव पसारने का खूब मौका दे रही है। पिछले 24 घंटों में केवल लखनऊ में कोविड-19 के रिकार्ड 485 मामले सामने आये जबकि समूचे राज्य में यह आंकड़ा 3765 का था। इस अवधि में राज्य के अलग अलग शहरों में 57 मरीजों की मृत्यु हो गई जो अब तक सर्वाधिक है वहीं स्वस्थ होने वालों की संख्या 996 थी। इसे मिलाकर राज्य में अब कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या 32 हजार 649 हो चुकी है वहीं कोरोना के कारण मरने वालों की संख्या 1587 है। कोरोना वायरस की जंग जीतने वालों की संख्या 46 हजार 803 हो चुकी है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञ कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह लोगों के स्वास्थ्य के प्रति लापरवाह रवैये को ठहरा रहे हैं। बकरीद और रक्षाबंधन के पर्व पर बाजारों में भीड़ उमड़ रही है जिससे सोशल डिस्टेसिंग के नियम तार तार हो रहे हैं वहीं मास्क और सैनेटाइजर के उपयोग से परहेज भी संक्रमण के फैलाव का बड़ा कारण सिद्ध हो रहा है। खुले ठेलों में सजी खानपान की दुकानों में भीड़ दिखायी दे रही है वहीं अधिक लाभ अर्जित करने की चाहत दुकानों में भी नियमों की धज्जियां उड़ा रही है।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में टेस्टिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश में कल एक दिन में 88,967 सैम्पल की जांच की गयी, जिसमें 51,484 रेपिड एन्टीजन टेस्ट तथा शेष आरटीपीसीआर, ट्रूनेट मशीन तथा अन्य विधि से जांच की गयी। उन्होने बताया कि कोरोना जांच प्रारम्भ होने की तिथि से पिछली 24 जून तक छह लाख टेस्ट किये गये थे, जबकि 24 जून से अब तक 16 लाख सैम्पल की टेस्टिंग की जा चुकी है।

इस प्रकार कोविड-19 की जांच में 22 लाख का आकड़ा पार करते हुए प्रदेश में अब तक 22,09,810 सैम्पल की जांच की गयी है। प्रदेश में 32,649 कोरोना के मामले एक्टिव हैं, जिसमें 7,198 मरीज होम आइसोलेशन में, 1,112 प्राइवेट हास्पिटल में तथा 172 मरीज एल-1़ सेमी पेड फैसलिटी में तथा इसके अतिरिक्त शेष कोरोना संक्रमित एल-1, एल-2, एल-3 के कोविड अस्पतालों में है।

 
 

Related posts

Top