महाराष्ट्र में दुखद हादसा, वर्धा नदी में नाव पलटने से 11 लोगों की मौत की आशंका

महाराष्ट्र में दुखद हादसा, वर्धा नदी में नाव पलटने से 11 लोगों की मौत की आशंका
  • वर्धा नदी भी अपने उफान पर हैं. नदी के एक किनारे से दूसरी तरफ जाते समय नौका पलट गई. हालांकि नाव कैसे डूबी है इसका सटीक पता नहीं चल पाया है. घटना बेनोदा थाना क्षेत्र के वरुद तालुका के झुंज गांव के पास हुई है.

नई दिल्ली : महाराष्ट्र के वर्धा जिले से एक बेहद ही दुखद खबर सामने आ रही है. यहां वर्धा नदी में एक नाव पलट गई है. नाव पलटने से बड़ा हादसा हुआ है. इस हादसे में 11 लोगों के डूबने की आशंका है. बता दें कि महाराष्ट्र में लगातार बारिश होने की वजह से नदियां उफान पर हैं. वर्धा नदी भी अपने उफान पर हैं. नदी के एक किनारे से दूसरी तरफ जाते समय नौका पलट गई. हालांकि नाव कैसे डूबी है इसका सटीक पता नहीं चल पाया है. घटना बेनोदा थाना क्षेत्र के वरुद तालुका के झुंज गांव के पास हुई है.

मीडिया रिपोर्ट की मानें तो नाव पर ज्यादा लोग सवार थे. नाव में 30 लोग सवार थे जोकि क्षमता से ज्यादा थी. नदी के तेज उफान और ज्यादा लोगों के सवार होने की वजह से नाव पलट गई. नाव को डूबते देख स्थानीय लोग वहां पहुंचे और बचाव कार्य शुरू किया. ग्रामीणों ने कुछ लोगों को बाहर निकाल लिया. वहीं अभी तक तीन शव को निकाला गया है. जबकि 8 लोग अभी भी गायब हैं.

बचाव दल पहुंचकर 8 लोगों की तलाश कर रही है. मीडिया रिपोर्ट की मानें तो एक परिवार के कुछ सदस्य दशक्रिया अनुष्ठान के लिए सुबह करीब 10 बजे गडेगांव आए थे. जब वे लौट रहे थे तभी नाव पलट गई. वहीं इलाके में हड़कंप का माहौल है.

हाल ही में असम के जोरहाट के नेमाटीघाट में ब्रह्मपुत्र नदी पर एक अन्य नाव के साथ टक्कर के बाद एक बड़ी नाव के पलट जाने से महिलाओं सहित कम से कम 50 लोग लापता हो गए थे. अधिकारियों ने यह जानकारी दी थी. पुलिस ने कहा कि नाव नेमाटीघाट से माजुली द्वीप में कमलाबाड़ी फेरी पॉइंट की ओर जा रही थी, जबकि दूसरी नेमाटीघाट जाने वाली थी.जोरहाट जिला पुलिस प्रमुख अंकुर जैन ने कहा कि पुलिस और आपदा प्रबंधन कर्मियों ने नदी के किनारे से लगभग 350 मीटर की दूरी पर पलटी हुई नाव का पता लगाया था.

इसे भी पढ़ें; गडकरी बोले, ‘CM बनने वाले इसलिए दुखी हैं, क्योंकि कब तक रहेंगे… भरोसा नहीं’


पत्रकार अप्लाई करे Apply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *