पश्चिमी यूपी में बढ़ा कोविड-19 का खतरा, अस्पताल से कोरोना पाॅजिटिव के फरार होने के बाद दहशत, सहारनपुर में पांच पहुंची संक्रमितों की संख्या

 

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कोरोना पाॅजिटिवों की संख्या लगातार बढ़ रही है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कोरोना पाॅजिटिवों की संख्या लगातार बढ़ रही है। सहारनपुर में जहां कोरोना संक्रमितों की संख्या पांच हो गई है। वहीं शामली जिल के निवासी लोगों के अन्य जिलों में कोरोना संक्रमित मिलने के बाद कई क्षेत्रों में ग्रामीण गांव में बाहरी लोगों के प्रवेश को लेकर पहरा दे रहे हैं। उधर, बागपत के खेकड़ा में कोविड अस्पताल से कोरोना संक्रमित मरीज के फरार होने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। डीएम, सीएमओ और एसपी समेत कई आला अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं।

सहारनपुर में एक विदेशी जमाती समेत संक्रमित मरीजों की संख्या पांच होने के बाद अब जिले में संक्रमण का खबतरा बढ़ता दिख रहा है। सोमवार देर रात आई रिपोर्ट के अनुसार जिले से भेजे गए नमूनों की जांच के बाद चार अंडर प्रोसेस मरीजों में कोरोना पाॅजिटिव पाया गया है। इनमें 19 साल के लड़के से लेकर पचास वर्षीय बुजुर्ग भी शामिल हैं।

इनमें दो आंध्रप्रदेश, एक सहारनपुर और एक किर्गिस्तान, रशिया का रहने वाला है। ये सभी दिल्ली से जिले में लौटे थे। 3 अप्रैल को इनके सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। 61 लोगों की लिस्ट भेजी थी जिनमें चार को आइसोलेशन में रखा हुआ था। सीएमओ बीएस सोढ़ी के अनुसार ये चारों पॉजिटिव हैं, इनके मिलने-जुलने वालों की भी जानकारी जुटाई जा रही है।

उधर, बागपत जनपद के कोविड अस्पताल खेकड़ा से मंगलवार तड़के नेपाल का रहने वाला कोरोना पाॅजिटिव के चकमा देकर भागने के बाद हड़कंप मच गया। मंगलवार तड़़के यह मरीज अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड से चादर की रस्सी बनाकर खिड़की के रास्ते भाग निकला। वहीं सुबह जब कोरोना पाॅजिटिव मरीज के भागने की जानकारी अस्पताल प्रबंधन को हुई तो लखनऊ तक हड़कंप मच गया।

दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से जमात 19 मार्च को जिले में आई थी। इनमें कुल 28 जमाती नेपाल के थे, इन्हें श्री कृष्णा कॉलेज बालैनी में क्वारंटीन किया गया था। 58 साल का नेपाली कोरोना पॉजेटिव निकला जिसके बाद उसे कोविड अस्पताल खेकड़ा में रखा गया था।

अस्पताल में फिर से हुई बड़ी चूक के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। क्योंकि इससे पहले भी जिला अस्पताल से एक युवक फरार हो गया था और अब कोविड अस्पताल से कोरोना संक्रमित शख्स का फरार होना पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े करता है।

शामली जनपद में भी कोरोना पाॅजिटिव मामालों का आंकड़ बढ़ सकता है। प्रदेश में आगरा, मथुरा जैसे जिलों में जिले के कोरोना पाॅजिटिव मिले हैं। वहीं जिले में मिले अब तक सभी पाॅजिटिव कैस जमातियों के हैं। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के कारण शामली जिला अब संवेदनशील जोन में पहुंच गया है। वहीं 14 अप्रैल के बाद भी लोग लाॅकडाउन के कयास लगाने लगे है।

 
 

Related posts

Top