जिला प्रशासन ने मेला गुघाल पर लगाई रोक, सूना पड़ा रहा म्हाड़ी स्थल

जिला प्रशासन ने मेला गुघाल पर लगाई रोक, सूना पड़ा रहा म्हाड़ी स्थल
  • सहारनपुर में श्रीगोगाजी महाराज की म्हाड़ी पर तैनात पुलिस बल।

सहारनपुर [24CN]। नगर निगम के तत्वावधान में गंगोह रोड स्थित श्री जाहरवीर गोगाजी महाराज की म्हाड़ी पर प्रतिवर्ष लगने वाले ऐतिहासिक मेला गुघाल की जिला प्रशासन द्वारा अनुमति न दिए जाने से एक ओर जहां म्हाड़ी स्थल सूना पड़ा रहा। वहीं दूसरी ओर श्रद्धालुओं को भी निराशा का सामना करना पड़ा। जबकि सुरक्षा के लिहाज से म्हाड़ी स्थल पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा।

गौरतलब है कि गंगोह रोड स्थित गोगाजी म्हाड़ी पर प्रतिवर्ष भाद्रपद मास की शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को ऐतिहासिक मेला गुघाल का आयोजन किया जाता है। मेला स्थल के नगर निगम में शामिल होने के चलते अब मेले के आयोजन की जिम्मेदारी नगर निगम द्वारा निभाई जाती है। गत वर्ष कोरोना संक्रमण के चलते जिला प्रशासन द्वारा मेला गुघायल के आयोजन की अनुमति नहीं दी गई थी। इस कारण छड़ी के सेवादारों द्वारा अपनी छडिय़ों को म्हाड़ी स्थल पर ले जाकर प्रतीकात्मक मेले का आयोजन किया गया था। विगत 15 दिन से महानगर में सभी 25 छड़ी के सेवादारों द्वारा छडिय़ों को गली-मौहल्लों में जाकर बसेरों का आयोजन किया जा रहा था तथा म्हाड़ी स्थल पर भी गोगाजी म्हाड़ी सुधार सभा द्वारा साज-सज्जा व सफाई आदि भी की गई थी। परंतु विगत दिवस जिला प्रशासन द्वारा गोगाजी महाराज म्हाड़ी पर लगने वाले मेले पर रोक लगाने के चलते एक ओर जहां छड़ी के सेवादारों को करारा झटका लगा है।

वहीं दूसरी ओर म्हाड़ी स्थल पर जाकर प्रसाद चढ़ाने व गोगाजी महाराज के नेजे के दर्शन करने की मन में धारणा बनाकर बैठे श्रद्धालुओं को भी निराशा का सामना करना पड़ा है। जिला प्रशासन द्वारा म्हाड़ी स्थल पर किसी भी श्रद्धालु द्वारा प्रसाद चढ़ाने को पूरी तरह प्रतिबंधित किया गया है। मात्र छड़ी के सेवादारों को अपनी छड़ी ले जाने की अनुमति दी गई है। इस कारण जिला प्रशासन द्वारा म्हाड़ी स्थल व म्हाड़ी स्थल पर जाने वाले मार्गों पर बैरिकेटिंग लगाकर पुलिस बल तैनात किया गया है ताकि कोई भी श्रद्धालु म्हाड़ी स्थल पर पहुंचकर प्रशासन के आदेश का उल्लंघन न कर सके।


पत्रकार अप्लाई करे Apply