पाकिस्तान के स्पेशल सैनिक कर रहे थे हमले की तैयारी, भारतीय सेना ने बोला धावा; दो को किया ढेर

पाकिस्तान के स्पेशल सैनिक कर रहे थे हमले की तैयारी, भारतीय सेना ने बोला धावा; दो को किया ढेर

श्रीनगर। पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। उसकी तरफ से जम्मू-कश्मीर में अशांति फैलाने की कोशिशें लगातार जारी हैं और भारतीय सेना उसे मुंहतोड़ जवाब भी दे रही है। ऐसा ही कुछ बुधवार को देखने को मिला उड़ी के गुरेज सेक्टर में, पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) नापाक हरकत को अंजाम देने की फिराक में थी, लेकिन भारतीय सेना को इसकी भनक लग गई। बस फिर क्या था, भारतीय जवानों ने हमला करके दो पाकिस्तानी कमांडो को ढेर कर दिया, जबकि कई अन्य के घायल होने की खबर है।

पाकिस्तानी सेना मंगलवार से ही जम्मू-कश्मीर के उड़ी सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रही है। भारतीय सेना ने भी उनका मुंहतोड़ जवाब दिया है। गौरतलब है कि अखनूर के सुदंरबनी सेक्टर में पाकिस्तान ने पिछले शनिवार देर शाम रिहायशी इलाकों में गोलाबारी की थी।पाकिस्तान पिछले कुछ दिनों से अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर फायरिंग करने से बाज नही आ रहा है।

बैट में पाकिस्तानी सेना के स्पेशल फोर्स के जवानों और आतंकवादियों को भी रखा जाता है। इनकी कोशिश हमेशा भारतीय सीमा में घुसकर सैनिकों की हत्या करने की होती है। यही नहीं बैट कमांडो भारतीय सैनिकों के शव क्षत-विक्षत करने के लिए भी बदनाम हैं। पाकिस्तान की तरफ से ऐसी कोशिशें लगातार जारी रहती हैं। देखें…

1 अगस्त 2019 – जम्मू कश्मीर में एलओसी के पास केरन सेक्टर में पाकिस्तान की तरफ से बैट ने घुसपैठ की कोशिश की। भारतीय सेना ने समय रहते इस हमले को रोक दिया और पांच से सात घुसपैठियों को मार गिराया।

31 दिसंबर 2018 – नए साल की पूर्व संध्या पर पाकिस्तान की तरफ से एलओसी के पास नौगाम सेक्टर में बैट ने एक बड़ी कोशिश की। भारत की तरफ से इसका मुंहतोड़ जवाब दिया गया और दो पाकिस्तानी सैनिकों के मारे जाने की खबर थी।

21 अक्टूबर 2018 – राजौरी जिले के सुंदरबनी सेक्टर में एलओसी के पास पाकिस्तान की ऐसी ही एक और नापाक हरकत को भारतीय सेना ने नाकाम किया और कम से कम तीन पाक सैनिक मारे गए।

18 सितंबर 2018 – पाकिस्तानी बैट ने सांबा जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास बीएसएफ जवान नरेंद्र सिंह की हत्या करके उनका शव क्षत विक्षत कर दिया। इसके बाद भारत और पाकिस्तान के बीच विदेश मंत्री स्तर की बैठक रद कर दी गई थी।

18 फरवरी 2018 – पाकिस्तान के बैट कमांडो और आतंकवादियों ने खारी करमारा सेक्टर के गुलपुर इलाके में एलओसी के पास हमले की कोशिश की। भारतीय सेना की कार्रवाई में एक आतंकी मारा गया, जबकि दो घायल हो गए।

23 दिसंबर 2017 – पाकिस्तानी बैट ने राजौरी जिले के केरी सेक्टर में भारतीय सेना की पेट्रोल पार्टी पर हमला किया, इसमें एक मेजर और तीन सैनिक शहीद हो गए। उनके शव बॉर्डर से करीब 400 मीटर दूर क्षत-विक्षत पाए गए।

5 नवंबर 2017 – भारतीय सेना ने उड़ी सेक्टर में बैट की एक घुसपैठ रोकी और इसमें दो आतंकी मार गिराए।

16 सितंबर 2017 – कुपवाड़ा में पाकिस्तानी बैट ने 7-8 हथियारबंद लोगों के साथ घुसपैठ की कोशिश की और भारतीय पोस्ट पर हमला किया। भारतीय सैनिकों ने इस कोशिश को नाकाम कर दिया।

22 जून 2017 – पुंछ में एलओसी के पास बैट की घुसपैठ को रोकने की कोशिश में दो भारतीय जवान शहीद हो गए।

26 मई 2017 – उड़ी सेक्टर में भारतीय सेना की पेट्रोलिंग टीम पर बैट ने हमला किया। भारतीय सेना ने समय रहते उनके हमले का जवाब दिया और दो घुसपैठियों को मार गिराया।

1 मई 2017 – पाकिस्तान की तरफ से भारी गोलाबारी के बीच 5-6 बैट कमांडो कृष्णा घाटी सेक्टर में एलओसी से भारतीय सीमा में 250 मीटर तक घुस आए। यहां उन्होंने दो भारतीय सैनिकों की हत्या कर दी और उनके सिर काट डाले।

साल 2016 में पाकिस्तानी बैट ने माछिल सेक्टर में एलओसी के पास एक भारतीय जवान की हत्या की और शव क्षत-विक्षत कर दिया।

साल 2013 में बैट कमांडो ने ही भारतीय जवान लांस नायक हेमराज की हत्या करके उनका शव क्षत-विक्षत किया। उनके अलावा कॉन्सटेबल राजिंदर सिंह को भी घायल कर दिया।

साल 2008 में बैट ने गोरखा राइफल के एक जवान को अगवा कर लिया और कुछ दिन बाद उनका सिर काट दिया।

व्हाट्सएप पर समाचार प्राप्त करने के लिए यंहा टैप/क्लिक करे वीडियो समाचारों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल सबस्क्राईब करे