उदयपुर में कन्‍हैयालाल की हत्‍या के विरोध में मेरठ सहित वेस्‍ट यूपी में भी उबाल, जगह-जगह प्रदर्शन

उदयपुर में कन्‍हैयालाल की हत्‍या के विरोध में मेरठ सहित वेस्‍ट यूपी में भी उबाल, जगह-जगह प्रदर्शन
  • राजस्‍थान के उदयपुर में युवक की हत्‍या के विरोध में गुरुवार को पश्‍चिमी यूपी के कई स्‍थानों पर प्रदर्शन किया गया। इस दौरान पुतला भी फूंका गया और नारेबाजी की गई। आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की गई।

मेरठ। राजस्थान के उदयपुर में कन्‍हैयालाल की गला रेत कर हत्या करने के विरोध में गुरुवार को वेस्‍ट यूपी के कई स्‍थानों पर विश्‍व हिंदु परिषद, बजरंग दल सहित अन्‍य हिंदु संगठनों के कार्यकर्ताओं ने जोरदार प्रदर्शन किया और इस दौरान पुतला भी फूंका गया। वहीं सुरक्षा के लिहाज से बड़ी संख्‍या में पुलिस बल मौजूद रहा। इस मामले आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की गई।

 

जमकर की गई नारेबाजी

मेरठ में कमिश्‍नरी पर गुरुवार की सुबह की बजरंग दल के कार्यकर्ता पहुंच गए और जमकर नारेबाजी की गई, इसके बाद पुतला भी फूंका गया। वहीं शामली कलक्ट्रेट में हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकताओं ने उदयपुर की घटना के विरोध में एडीएम सन्तोष कुमार सिंह को सौंपा ज्ञापन। इसके अलावा मृतक के परिजनों को 50 लाख रुपये की मदद और आरोपितों पर कठोर कार्रवाई करने की मांग की गई। दूसरी ओर बिजनौर में भी बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने पुतला फूंका।

मुजफ्फरनगर में ज्ञापन सौंपा गया

उदयपुर जिले में हुई कन्हैया लाल की हत्या को लेकर कस्बा जानसठ की विश्व हिंदू परिषद द्वारा एक ज्ञापन उप जिलाधिकारी जानसठ को दिया गया। इस दौरान ज्ञापन देने जा रहे कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रास्ते में रोका। जिसमें पुलिस के साथ उनकी झड़प भी हुई। उसके बाद कस्बा जानसठ के काले गेट पर पहुंचकर सभी कार्यकर्ताओं ने उप जिलाधिकारी अभिषेक कुमार को ज्ञापन सौंपा। इस दौरान तहसीलदार संजय सिंह नायब तहसीलदार जसमेन्दर सिंह पुलिस क्षेत्राधिकारी शकील अहमद कोतवाली प्रभारी विश्वजीत सिंह सहीत समस्त पुलिस फोर्स मौजूद रही।

मेरठ में हिंदू संगठनों में उबाल, सड़क पर उतर कर जताया विरोध

राजस्थान के उदयपुर में कन्हैया लाल की दिनदहाड़े हुई हत्या के विरोध में गुरुवार को तमाम हिंदू संगठन सड़क पर उतर आए। बड़ी संख्या में कमिश्नरी चौराहा पहुंचे लोगों ने जोरदार हंगामा किया और हत्यारों को फांसी देने की मांग की। लोगों ने विरोध में राजस्थान सरकार का पुतला भी दहन किया। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर तैनात रहा।

फांसी दिए जाने की मांग

गुरुवार को राजस्थान के उदयपुर में हुई कन्हैया लाल की हत्या के विरोध में विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल, हिंदू जागरण मंच, हिंदू युवा वाहिनी, हिंदू स्वाभिमान संस्था आदि संगठनों के लोग कमिश्नरी चौराहे पर पहुंचे और यहां हंगामा शुरू कर दिया। सभी संगठनों के लोगों ने कन्हैया लाल की हत्या के आरोपियों को फांसी दिए जाने की मांग की। साथ ही राजस्थान में लगातार हो रही इस तरह की घटनाओं के लिए गहलोत सरकार को बर्खास्त करने की मांग राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन सौंपकर की। इस दौरान कुछ लोग कमिश्नरी में घुस गए और पुतला दहन करने का प्रयास किया। जिसको लेकर काफी देर तक पुलिस से तकरार भी हुई। हालांकि बाद में पुतला लेकर लोग कमिश्नर कार्यालय परिसर से बाहर आ गए और सड़क पर राजस्थान सरकार का पुतला दहन कर दिया।

डीएम ऑफिस में भी ज्ञापन सौंपा

इस दौरान लोगों ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर शीघ्र हत्यारोपी तो पर सख्त कार्रवाई नहीं की गई तो हिंदू संगठन के लोग सड़क पर उतर कर फिर से विरोध प्रदर्शन करेंगे। इसके इसके बाद संगठनों ने एडीएम सिटी दिवाकर सिंह को अपनी मांग से संबंधित ज्ञापन सौंप दिया। इस दौरान कुछ संगठनों ने कमिश्नरी चौराहे से कलेक्ट्रेट तक जुलूस भी निकाला और डीएम ऑफिस में भी ज्ञापन सौंपा। इस दौरान व्यवस्था बनाने के लिए भारी संख्या में पुलिस बल कमिश्नरी चौराहे और कलेक्ट्रेट परिसर में तैनात रहा।

मवाना में भी पुतला फूंका

मवाना : राजस्थान की घटना के विरेाध में गुरुवार को विहिप- बजरंग दल कार्यकर्ताओं की पंचायती धर्मशाला में बैठक हुई। जहां रोष व्यक्त करने के बाद सुभाष चौक पर आतंकवाद-जेहाद का पुतला फूंका। इस दौरान पुलिसकर्मियों द्वारा पुतला छीना तो नोकझोंक हो गई। बाद में राष्ट्रपति के नाम तीन सूत्रीय मांग के साथ ज्ञापन सौंपा। संगठन के कार्यकर्ता गुरुवार दोपहर पंजाब नेशनल बैंक के पास स्थित पंचायती धर्मशाला में जिलाध्यक्ष अमर रस्तोगी के नेतृत्व में एकत्र हुए और उदयपुर में जिहादियों द्वारा कन्हैया लाल की हत्या किए जाने पर रोष प्रकट करते हुए नारेबाजी की। बैठक के उपरांत आतंकद-जेहाद का पुतला लेकर नारेबाजी करते हुए हाईवे स्थित सुभाष चौक पर पहुंच गए। इसके बाद एसडीएम अखिलेश यादव व सीओ उदय प्रताप सिंह को तीन सूत्रीय ज्ञापन दिया। ज्ञापन देने वालों में जिलाकोषाध्यक्ष महेश आर्य, सुभाष गाब्बा, वरूण त्यागी, विनीत, बिल्लू, विकास आदि कार्यकर्ता थे

 

 

बुलंदशहर में राजस्थान सरकार के खिलाफ प्रदर्शन

बुलंदशहर: राजस्थान के उदयपुर की घटना को लेकर हिंदू संगठनों में गुरुवार को भी उबाल रहा। हिंदू संगठनों ने राजस्थान के युवक कन्हैया की गला रेत कर हत्या करने वाले आरोपितों को फांसी देने की मांग का राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा। जिले भर में जगह -जगह हिंदू संगठनों ने अफसरों को ज्ञापन सौंपे। जनपद के हिंदू संगठनों में राजस्थान की घटना को लेकर आक्रोश दूसरे दिन भी रहा। क्रांति सेना के जिलाध्यक्ष केशव शर्मा के नेतृत्व में पदाधिकारियों ने राजे बाबू पार्क पर राजस्थान में उदयपुर की घटना के विरोध में राजस्थान सरकार खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

सरकार की बर्खास्तगी की मांग की

जिलाध्यक्ष ने कहा कि कन्हैया के हत्यारों को फांसी की सजा दी जाए। फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले की सुनवाई की जाए। उधर बजरंग दल के पदाधिकारियों ने जिला कार्यालय पर राजस्थान सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर राजस्थान सरकार की बर्खास्तगी की मांग की। इसके साथ ही हत्यारों को फांसी की सजा देने की मांग की। बजरंग दल के पदाधिकारियों के कलक्ट्रेट की ओर कूच करने की सूचना पर सिटी मजिस्ट्रेट मीनू राणा व एएसपी शशांक सिंह बजरंग दल के कार्यालय पर पहुंच गए। बजरंग दल के पदाधिकारियों से वहीं ज्ञापन ले लिया। इस दौरान बबलू गिरी, तेज प्रताप शर्मा,रवि,संजय,सतेंद्र समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।

बिजनौर में पुतला फूंकने पर केस दर्ज

बिजनौर में इस्लामिक जिहाद का पुतला जलाने और उदयपुर की घटना को लेकर हुए प्रदर्शन के मामले में बजरंग दल के पदाधिकारियों के खिलाफ शहर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। अन्य स्थान पर भी कार्रवाई की तैयारी की जा रही है। एसपी का कहना है कि सरकार की मंशा के अनुसार राजस्थान में हुई घटना को लेकर जिले में कहीं भी कोई विरोध प्रदर्शन नहीं करने दिया जाएगा।


पत्रकार अप्लाई करे Apply